नेत्रहीनों को 2000 और 500 रुपये के नए नोटों को पहचानने में हो रही है समस्या

नेत्रहीनों को 2000 और 500 रुपये के नए नोटों को पहचानने में हो रही है समस्या

नई दिल्ली:

दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्र राजीव जन्म से नहीं देख सकते हैं. आजकल थोड़े परेशान हैं, क्योंकि वह 2000 और 500 रुपये के नए नोटों को आसानी से नहीं पहचान पा रहे हैं. सरकार का दावा है कि नए नोटों में नेत्रहीनों की सुविधा के लिए विशेष प्रावधान किए गए हैं.

Newsbeep

500 के नोट के किनारे कुछ उभरी हुई 5 लकीरें दी गई हैं, जबकि 2000 के नोट के किनारे उभरी हुई 7 लकीरें हैं. लेकिन हकीकत में नेत्रहीन आसानी से इन नए नोटों की पहचान नहीं कर पा रहे हैं, क्योंकि इन नोटों में लकीरों का जो उभार है, वह बेहद हल्का है. इन उभारों को महसूस करने में नेत्रहीनों को समस्या आ रही है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


राजीव का दावा है कि ब्रेल में अक्षरों का उभार ज्यादा होता है, जिससे वो अक्षर समझ जाते हैं, लेकिन नए नोटों में ये उभार काफी कम हैं. उनका कहना है कि नए नोटों की लकीरों के उभार को ब्रेल के उभारों के साथ तालमेल करके छापा जाना चाहिए था.