नकली सर्टिफिकेट और रसीद जारी करने वाले डॉक्टर को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

आयुष अस्पताल में एडमिट रहने का नकली सर्टिफिकेट और पैसों की नकली रसीद जारी करने वाले डॉक्टर को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है.

नकली सर्टिफिकेट और रसीद जारी करने वाले डॉक्टर को क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

आरोपी डॉक्टर को गिरफ्तार कर लिया गया है.

नई दिल्ली:

आयुष अस्पताल में एडमिट रहने का नकली सर्टिफिकेट और पैसों की नकली रसीद जारी करने वाले डॉक्टर को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है. दरअसल डॉक्टर जिस आरोपी को बचाना चाहता था उसके खिलाफ कई अपराधिक मामले दर्ज हैं. फरीदाबाद क्राइम ब्रांच सेक्टर 48 ने सराहनीय कार्य करते हुए मारपीट के मामले में संलिप्त एक आरोपी को बचाने हेतु आयुष अस्पताल का नकली एडमिट सर्टिफिकेट बनाने वाले एक आरोपी डॉक्टर को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है.

आरोपी की पहचान डॉ सतीश कुमार जिला गाजीपुर यूपी हाल आयुष हॉस्पिटल नगला पार्ट 2 फरीदाबाद के रूप में हुई है. आपको बता दें कि मामला थाना सूरजकुंड का है. 3 मार्च को शिकायतकर्ता कृष्ण कुमार निवासी डेरा गुरुकुल फरीदाबाद ने पुलिस को शिकायत दी कि विजय, रोहित और 3-4 लड़के निवासी आनंगपुर ने उसके घर में आकर उसके और उसके परिवार वालों के साथ मारपीट की है.

यह भी पढ़ें: राजधानी में बेलगाम अपराधी, चलती बस से दिल्ली पुलिस के कॉन्स्टेबल को कर लिया अगवा

मारपीट के दौरान आरोपियों ने शिकायतकर्ता की गर्भवती भाभी को चोट मारी थी जिसके कारण गर्भपात हो गया था. जिस पर आरोपियों के खिलाफ थाना सूरजकुंड में मामला दर्ज किया गया था. पुलिस ने उपरोक्त केस में कार्यवाही करते हुए मामले को अंजाम देने वाले आरोपी रोहित निवासी आनंगपुर, नरेंद्र उर्फ नींदे गांव अनंगपुर को 21 मार्च को गिरफ्तार किया था. पुलिस ने आरोपियों को अदालत में पेश कर 22 मार्च को जेल भेज दिया था.

मुकदमे में शामिल मुख्य आरोपी विजय निवासी आनंगपुर ने माननीय अदालत में अग्रिम जमानत रद्द होने पर हाईकोर्ट में जमानत हेतु अर्जी लगाई थी. आरोपी विजय ने अपने बचाव के लिए आरोपी डॉक्टर सतीश से आयुष अस्पताल में एडमिट रहने का नकली सर्टिफिकेट और नकली पैसो की रसीद बनवाई थी.

पुलिस ने डॉक्टर के द्वारा जारी किए गए सर्टिफिकेट की जांच की तो पाया कि यह नकली है. जिस पर पुलिस ने बिना देरी के आरोपी डॉक्टर को गिरफ्तार किया है. प्रभारी क्राइम ब्रांच ने बताया कि आरोपी विजय कई अपराधिक मामलों में संलिप्त है जो कि एक आदतन अपराधी है. आरोपी विजय की हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत की सुनवाई पेंडिंग है. आरोपी विजय के खिलाफ़ सभी तथ्य हाई कोर्ट के आगे पेश कर आरोपी की जमानत खारिज कराई जाएगी.

Newsbeep

पुलिस ने आरोपी के कब्जे से नकली दस्तावेज भी बरामद किए हैं. आज आरोपी को अदालत में पेश कर जेल भेजा गया है.

एंबुलेंस के जरिए ड्रग्स की सप्लाई करने वाले गैंग का पर्दाफाश

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com