NDTV Khabar

दलितों, मुस्लिमों पर जुल्म करने वाले अब बच्चों पर पथराव कर रहे : अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने फिल्म 'पद्मावत' की रिलीज के विरोध में गुड़गांव में भीड़ द्वारा एक स्कूली बस पर किए गे पथराव की निंदा की

2.4K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
दलितों, मुस्लिमों पर जुल्म करने वाले अब बच्चों पर पथराव कर रहे : अरविंद केजरीवाल

अरविंद केजरीवाल ने गुड़गांव में स्कूल बस पर हमले की तीखी आलोचना की है.

खास बातें

  1. केजरीवाल ने लोगों से अपील की कि अब चुप नहीं रहें, बोलें
  2. बांटने वाली ताकतों के खिलाफ बोलना जरूरी हो गया है
  3. कहा- केंद्र के हुक्मरानों से अनुरोध करता हूं कि कृपया हमें छोड़ दें
नई दिल्ली: गुड़गांव में स्कूल बस पर पथराव किए जाने की घटना पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने तीखी प्रतिक्रिया जाहिर की उन्होंने कहा कि ''जिन ताकतों ने मुस्लिमों को मारा और दलितों को जलाया वे अब हमारे घरों में अतिक्रमण कर रही हैं और हमारे बच्चों के पीछे हैं.’’ उन्होंने कहा कि ''मैं केंद्र के हुक्मरानों से अनुरोध करता हूं कि कृपया हमें छोड़ दें.''

सीएम अरविंद केजरीवाल ने फिल्म 'पद्मावत' की रिलीज के विरोध में गुड़गांव में भीड़ द्वारा एक स्कूली बस पर हमले की घटना की निंदा की. उन्होंने कहा कि बांटने वाली ताकतों के खिलाफ बोलना जरूरी हो गया है क्योंकि लोग अब उस तरह से चुप नहीं रह सकते जैसे वे पूर्व में देश में मुस्लिमों और दलितों को निशाना बनाए जाने के समय रहे थे. उन्होंने कहा कि ‘‘मैं सभी से अपील करता हूं. हम अब चुप नहीं रह सकते. उन्होंने मुस्लिमों को मारा, दलितों को जलाया, उन्हें पीटा. आज उन्होंने हमारे बच्चों पर पथराव किया है और हमारे घरों में अतिक्रमण कर हरे हैं. अब चुप नहीं रहें, बोलें.’’

यह भी पढ़ें : 'पद्मावत' पर संग्राम : करणी सेना की गुंडागर्दी, गुड़गांव में स्कूल बस को भी नहीं छोड़ा, रोडवेज की बस फूंकी

दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल यहां उत्तरी दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में राज्य स्तरीय गणतंत्र दिवस कार्यक्रम में बोल रहे थे. उन्होंने 40 मिनट के अपने भाषण में कहा कि यह शर्म की बात है कि गणतंत्र दिवस से पहले राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से कुछ किलोमीटर दूर स्कूली बच्चों पर पथराव किया गया.

उन्होंने कहा, ‘‘यह राम, कृष्ण, गौतम बुद्ध, महावीर, गुरु नानक, कबीर और मीरा तथा पैगम्बर मोहम्मद और ईसा मसीह के अनुयायियों की धरती है. मैं

टिप्पणियां
VIDEO : स्कूल बस पर हमला

पूछना चाहता हूं कि क्या पथराव करने वाले हिंदू, मुस्लिम या ईसाई थे? कौन सा धर्म बच्चों के खिलाफ हिंसा सिखाता है?’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं यह मुद्दा गणतंत्र दिवस से एक दिन पहले भरे मन से उठा रहा हूं क्योंकि मैं अपने देश से प्रेम करता हूं. मैं देश में ऐसी हिंसा नहीं देख सकता. यहां पर लोग अपने देश से प्रेम करते हैं और शांति एवं प्यार चाहते हैं. मैं केंद्र के हुक्मरानों से अनुरोध करता हूं कि कृपया हमें छोड़ दें.’’
(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement