NDTV Khabar

नरेला मामले को लेकर DCW की अध्यक्ष स्वाति जयहिंद राष्ट्रपति कोविंद से मिलीं

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति जयहिंद ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को बताया कि नरेला में अवैध शराब पकड़वाने वाली महिला पर वहां के शराब माफिया ने हमला कर दिया और दिनदहाड़े उसको नंगा करके घुमाया

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नरेला मामले को लेकर DCW की अध्यक्ष स्वाति जयहिंद राष्ट्रपति कोविंद से मिलीं

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति जयहिंद ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की.

नई दिल्ली: दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति जयहिंद ने आज भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की और उन्हें राजधानी दिल्ली में  और शराब, ड्रग्स की बढ़ती अवैध बिक्री और महिला सुरक्षा से संबंधित अन्य मामलों से अवगत कराया. उन्होंने राष्ट्रपति को बताया कि दिल्ली में शराब और ड्रग्स घरों में खुले में बेची जा रही है. दिल्ली महिला आयोग ने दिल्ली में कई जगहों पर छापा मारा है और इस दौरान आयोग ने जहांगीरपुरी, बुराड़ी, होलम्बी कलां और नरेला में कई लोगों को घरों से शराब बेचते हुए पकड़ा है.

स्वाति ने राष्ट्रपति को बताया कि दिल्ली की महिलाओं और बच्चियों को इसका नुकसान झेलना पड़ता है क्योंकि इसकी वजह से अपराधों में बढ़ोत्तरी हो रही है. यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि इतने बड़े पैमाने पर आपराधिक गतिविधियां पुलिस की नाक के नीचे चल रही हैं. उन्होंने राष्ट्रपति को यह भी बताया कि कैसे नरेला में एक स्थानीय महिला वालंटियर ने एक घर से 350 शराब की बोतलें पकड़वाने में दिल्ली महिला आयोग की मदद की. इस पर उस महिला पर वहां के शराब माफिया ने हमला कर दिया और दिन दहाड़े उसको नंगा करके घुमाया.

यह भी पढ़ें : अवैध शराब के धंधे की जानकारी देने वाली महिला को निर्वस्त्र करके पीटा, वीडियो बनाया

इसके अलावा स्वाति ने राष्ट्रपति से बातचीत में दिल्ली में बढ़ते बलात्कार के मामलों पर चिंता जाहिर की. उन्होंने बताया कि राजधानी में रोजाना लगभग 6 बलात्कार के मामले सामने आ रहे हैं. 11 महीने की छोटी-छोटी बच्चियों तक का बलात्कार हो रहा है. उन्होंने राष्ट्रपति से गुजारिश की कि वे केंद्र सरकार से दिल्ली महिला आयोग की मांगों को पूरा करवाने में मदद करें.
सबसे पहले दिल्ली में एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया जाए जिसमें केंद्रीय गृहमंत्री, दिल्ली के उपराज्यपाल, दिल्ली के मुख्यमंत्री, दिल्ली पुलिस आयुक्त और दिल्ली महिला आयोग शामिल हो. इस समिति की महीने में काम से कम दो बार बैठक हो और इन बैठकों में राजधानी में महिलाओं की सुरक्षा को सुदृढ़ करने और अवैध शराब और ड्रग्स की बिक्री रोकने के लिए निर्णायक कदम उठाए जाएं. उन्होंने राष्ट्रपति को बताया कि कैसे उन्होंने अपनी इस मांग के लिए सत्याग्रह किया था. मगर उनकी यह मांग अब तक नहीं मानी गई है.

टिप्पणियां
VIDEO : महिला पर हमला करने वाले गिरफ्तार

उन्होंने राष्ट्रपति से कहा कि दिल्ली में अपराधियों को पुलिस का बिल्कुल भी खौफ नहीं है. इस स्थिति को बदलने की बहुत जरूरत है. दिल्ली महिला आयोग ने यह भी मांग की है कि देश में बच्चों के बलात्कार रोकने के लिए कड़ा कानून बने. कुछ समय पहले मध्यप्रदेश में एक कानून पास हुआ है, वैसा ही कानून देश की संसद में पास होना चाहिए जिसमें बच्चों के साथ बलात्कार जैसी घिनौनी हरकत करने वाले अपराधियों को फांसी की सजा का प्रावधान हो. हालांकि मध्यप्रदेश में बना कानून इतना कड़ा नहीं है जिससे अपराधी अपराध करने में डरें, क्योंकि इसमें 6 महीने के अंदर अंदर फांसी की सज़ा का प्रावधान नहीं है. मगर संसद जो कानून बनाए उसमें अपराधियों को 6 महीने में फांसी की सज़ा देने का प्रावधान होना चाहिए.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement