Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

सीलिंग का विरोध : दिल्ली में आज बंद का दूसरा दिन, व्यापारी हड़ताल से पीछे हटने को तैयार नहीं

सीलिंग के विरोध में बंद के दौरान 7 लाख से ज़्यादा कारोबारी प्रतिष्ठान बंद रहने का दावा किया गया था. इस बंद का समर्थन कांग्रेस और बीजेपी ने दोनों ने किया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सीलिंग का विरोध : दिल्ली में आज बंद का दूसरा दिन, व्यापारी हड़ताल से पीछे हटने को तैयार नहीं

दिल्ली में सीलिंग के विरोध में बंद का आज दूसरा दिन

खास बातें

  1. दिल्ली में आज बंद का दूसरा दिन
  2. व्यापारी हड़ताल से पीछे हटने को तैयार नहीं
  3. सीलिंग के विरोध में है बंद
नई दिल्ली:

सीलिंग के विरोध में आज दिल्ली में व्यापारियों के बंद का दूसरा दिन होगा. शुक्रवार को बंद का पहला दिन था. हालांकि दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल के घर हुई बैठक में डीडीए की बैठक में तीन प्रस्ताव पास किए गए हैं. जिसमें सीलिंग से बड़ी राहत देने की कोशिश की गई है. इसके बाद देखने वाली बात यह होगी आज बंद का कितना असर दिखता है. इस बंद के दौरान 7 लाख से ज़्यादा कारोबारी प्रतिष्ठान बंद रहने का दावा किया गया था. इस बंद का समर्थन कांग्रेस और बीजेपी ने दोनों ने किया था.

351 सड़कों पर सीलिंग मामला: MCD अधिकारियों ने AAP के दावे को सही ठहराया

टिप्पणियां

दिल्ली के ये बाजार रहेंगे आज भी बंद
कनॉट प्लेस, चांदनी चौक, करोलबाग, कमला नगर, खान मार्केट, गांधीनगर, कृष्णा नगर, लाजपत नगर, डिफेंस कॉलोनी, साउथ एक्स, ग्रेटर कैलाश, रजौरी गार्डेन, तिलक नगर, राजेंद्र नगर 


वीडियो : व्यापारी पीछे हटने को तैयार नहीं

आपको बता दें कि आज सुबह 10 बजे से दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल  के आवास पर डीडीए की बैठक में तीन प्रस्ताव पास किए गए हैं. जिसमें एफएआर (FAR)  को बढ़ाकर 350 किया जाएगा. कनवर्ज़न चार्ज जो 10 गुना है वो कम करके दोगुना किया जाएगा और 12 मीटर की सड़कों पर कृषि गोदामों को रेगुलराइज़ किया जाएगा. माना जा रहा है कि आज दिल्ली में व्यापारियों को सीलिंग से  राहत मिल जाएगी. तीन बाद फिर से बैठक होगी. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... दिल्ली हिंसा : विवेक से नाम पूछा और आर्मेचर सिर पर मार दिया, शादी के 11 दिन बाद ही असफाक की मौत

Advertisement