Hindi news home page

राजौरी गार्डन उपचुनाव : बीजेपी-अकाली दल अपने-अपने उम्मीदवार के लिए अड़े

ईमेल करें
टिप्पणियां
राजौरी गार्डन उपचुनाव : बीजेपी-अकाली दल अपने-अपने उम्मीदवार के लिए अड़े

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल (बाएं) तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पार्टियां अपने-अपने प्रत्याशी पर अड़ी हुई हैं...

नई दिल्ली: दिल्ली की राजौरी गार्डन विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और शिरोमणि अकाली दल अपने-अपने उम्मीदवार उतारने पर अड़ गए हैं. बीजेपी इस सीट से अपने बेहद वरिष्ठ नेता और करीब 20 साल से निगम पार्षद सुभाष आर्य को चुनाव लड़वाना चाहती है, क्योंकि वह अपने सभी मौजूदा निगम पार्षदों का टिकट काटने का ऐलान कर चुकी है, सो, ऐसे में एर वरिष्ठ नेता को विधानसभा में पहुंचाने की कोशिश की जा रही है.

दूसरी ओर, बीजेपी की सहयोगी शिरोमणि अकाली दल इस सीट से मनजिंदर सिंह सिरसा को चुनाव लड़वाना चाहती है, जो वर्ष 2013 में अकाली-बीजेपी के संयुक्त उम्मीदवार के रूप में चुनाव जीते थे, लेकिन 2015 में हार गए थे. ऐसे में अकाली दल का कहना है कि यह सीट उन्हीं की है. शिरोमणि अकाली दल का कहना है कि चूंकि यह सीट गठबंधन के तहत उन्हीं की है, इसलिए वे अपना उम्मीदवार उतारेंगे.

बीजेपी-अकाली दल में जारी इस गतिरोध के चलते ही अभी तक इस सीट पर इन दोनों की ओर से कोई उम्मीदवार घोषित नहीं हो पाया है, जबकि मंगलवार, 21 मार्च नामांकन पत्र दाखिल करने की अंतिम तारीख है. यह सीट आम आदमी पार्टी के विधायक जरनैल सिंह के इस्तीफे से खाली हुई थी, जो पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के खिलाफ चुनाव लड़ने पंजाब गए थे. आम आदमी पार्टी ने हरजीत सिंह को अपना उम्मीदवार बनाया है, जबकि कांग्रेस ने मीनाक्षी चंदीला को मैदान में उतारा है. यहां 9 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement