कोरोना संकट के बीच दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की चेतावानी, डॉक्टरों के साथ बदसलूकी बर्दाश्त नहीं

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में सफदरजंग अस्पताल में कार्यरत दो महिला डॉक्टरों पर गौतम नगर में हुए कथित हमले का जिक्र किया.

कोरोना संकट के बीच दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की चेतावानी, डॉक्टरों के साथ बदसलूकी बर्दाश्त नहीं

दिल्ली सीएम केजरीवाल ने डॉक्टरों के साथ बदसलूकी करने वालों को चेतावनी दी है.

नई दिल्ली:

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में सफदरजंग अस्पताल में कार्यरत दो महिला डॉक्टरों पर गौतम नगर में हुए कथित हमले का जिक्र करते हुए कहा कि मैं उन लोगों को चेतावनी देना चाहता हूं जो डॉक्टर या नर्स के साथ दुर्व्यवहार कर रहे हैं. इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. ऐसे लोगों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी. 

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि सरकार ने आदेश निकाला है कि हर व्यक्ति जब घर से बाहर निकलेगा तो उसको मास्क पहनना जरूरी है. केजरीवाल ने कहा कि कई देशों में सुनने को मिला है कि अगर सब लोग मास्क पहनना शुरू कर दें तो कोरोना को काफी हद तक रोका जा सकता है. इसलिए कई देशों से सीख कर दिल्ली सरकार ने भी यह आदेश दिया है. दिल्ली सीएम ने कहा कि मास्क बाजार से खरीदने की जरूरत नहीं है आप अपने घर में साफ धुला हुआ कपड़ा या रुमाल इस्तेमाल कर सकते हैं, उससे मास्क बना लीजिए और नाक पर बांध लीजिए उससे करोना आपके अंदर नहीं घुसेगा. 

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने एक और आर्डर निकाला  है कि कोई काम धंधा नहीं चल रहा है इसलिए सरकार को टैक्स आना बंद हो गया है. महीने 2 महीने के बाद सरकार के पास देने के लिए तनख्वाह कहां से आएगी? इसलिए हमने पहला निर्णय यही लिया कि एक तो वेतन और दूसरा कोरोना से संबंधित खर्च के अलावा कोई खर्च नहीं होगा. इस मुश्किल परिस्थिति में सब लोगों को अपने-अपने स्तर पर कुर्बानी करनी पड़ेगी, कटौती करनी पड़ेगी.

केजरीवाल ने कहा कि 71 लाख लोगों को पहले ही राशन दे रहे हैं और जिनके पास राशन कार्ड नहीं थे उनको भी देना शुरू किया है.लेकिन क्योंकि पहले कोई व्यवस्था नहीं थी इसलिए देने में दिक्कत आ रही है. अगले दो-चार दिनों में दिक्कतें ठीक हो जाएंगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली में 21 ऐसे इलाकों की पहचान की गई है जिनमें कंटेंनमेंट लागू किया गया है. कंटेनमेंट मतलब जहां पर हमें कोरोना के कुछ मरीज मिलते हैं तो वहां हम सील कर देते हैं. कंटेनमेंट का मतलब उस इलाके को हमने शील कर दिया है. उस इलाके के लोग बाहर नहीं जाएंगे ना ही बाहर वाले अंदर आएंगे.

दिल्‍ली सरकार का कोरोना से मुकाबला करने के लिए कसी कमर, बनाया ये प्लान