नोएडा, गाजियाबाद, फरीदाबाद और गुड़गांव में प्रदूषण गंभीर श्रेणी में

दिल्ली के सबसे निकट के पांच शहरों की हवा में प्रदूषण कारक तत्वों पीएम 2.5 और पीएम 10 की मात्रा भी अधिक बनी रही

नोएडा, गाजियाबाद, फरीदाबाद और गुड़गांव में प्रदूषण गंभीर श्रेणी में

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) में गाजियाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, फरीदाबाद और गुड़गांव में रविवार को वायु गुणवत्ता ‘‘गंभीर'' श्रेणी में दर्ज की गई. एक सरकारी एजेंसी ने यह जानकारी दी. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) द्वारा उपलब्ध कराए गए वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) के अनुसार दिल्ली के सबसे निकट पांच शहरों की हवा में प्रदूषण कारक तत्वों पीएम 2.5 और पीएम 10 की मात्रा भी अधिक बनी रही.

सूचकांक के अनुसार 0 और 50 के बीच एक्यूआई को ''अच्छा'', 51 और 100 के बीच ''संतोषजनक'', 101 और 200 के बीच ''मध्यम'', 201 और 300 के बीच ''खराब'', 301 और 400 के बीच ''बेहद खराब'' और 401 से 500 के बीच ''गंभीर'' माना जाता है.

Newsbeep

सीपीसीबी के समीर ऐप के अनुसार रविवार को शाम चार बजे चौबीस घंटे का औसत एक्यूआई गाजियाबाद में 448, नोएडा में 441, ग्रेटर नोएडा में 417, गुड़गांव में 425 और फरीदाबाद में 414 दर्ज किया गया. शनिवार को औसत एक्यूआई गाजियाबाद में 456, नोएडा में 425, ग्रेटर नोएडा में 394, फरीदाबाद में 378, और गुड़गांव में 358 रहा था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


सीपीसीबी के अनुसार नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद, फरीदाबाद और गुड़गांव में रविवार को हवा में मौजूद पीएम 2.5 और पीएम 10 कणों की अधिकता प्रमुख प्रदूषण कारक तत्व रहे.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)