NDTV Khabar

दिल्ली : लीवर के इलाज की तकनीक और अनुभव साझा कर रहे दुनियाभर के डॉक्टर

'एशियन पैसेफिक एसोसिएशन फॉर द स्टडी ऑफ लीवर' के तहत करीब 3500 डॉक्टर एक मंच पर जुटे

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली : लीवर के इलाज की तकनीक और अनुभव साझा कर रहे दुनियाभर के डॉक्टर

दिल्ली में 'एशियन पैसेफिक एसोसिएशन फॉर द स्टडी ऑफ लीवर' के तहत डॉक्टर अनुभव साझा कर रहे हैं.

खास बातें

  1. लीवर की बीमारियों से मरने वालों की तादाद बहुत ज्यादा
  2. एचआईवी से हेपेटाइटिस-सी लगभग 10 गुना अधिक
  3. सौ में से केवल एक मरीज का हो पाता है लीवर ट्रांसप्लांट
नई दिल्ली: लीवर से जुड़ी बीमारियों से बचाव और इलाज की नई तकनीक को लेकर राजधानी दिल्ली में दुनिया भर के देशों के करीब 3500 डॉक्टर एक मंच पर जुटे हैं. 14 से 18 मार्च तक चलने वाले 'एशियन पैसेफिक एसोसिएशन फॉर द स्टडी ऑफ लीवर' के तहत ये डॉक्टर अपने अनुभव साझा कर रहे हैं.

लीवर की बीमारियों और उनके उपचार के लिए विभिन्न विचारों को लेकर दुनियाभर के डॉक्टर एक मंच पर आए हैं. यह सीखने और सिखाने की एक कड़ी है. इसके जरिए तकनीक, अनुभव और स्टडी साझा करने की कोशिश की जा रही है. इंस्टीट्यूट ऑफ लीवर एंड बिलयरी साइंसेज के डायरेक्टर डॉ एसके सरीन ने बताया कि ''लीवर की बीमारियों से मरने वालों की तादाद बहुत ज्यादा है. भारत में एचआईवी से हेपेटाइटिस-बी लगभग सौ गुना ज्यादा है. एचआईवी से हेपेटाइटिस-सी लगभग 10 गुना अधिक है. इनमें पैसा कम मिल पाता है, लोगों का ध्यान कम है, पर बीमारियां ज्यादा हैं. लीवर ज्यादा खराब होता है, तो मुझे उम्मीद है कि ये कॉन्फ्रेंस इसमें मदद देगी.''

यह भी पढ़ें : किसको हो सकती है फैटी लीवर की बीमारी, क्या है इसका इलाज? 

प्रत्येक पांच में से एक आदमी को लीवर की बीमारी है, जो डायबिटिज, हार्ट और किडनी से कहीं ज्यादा है. इसमें 46 फीसदी लोगों का लीवर शराब की वजह से खराब होता है. सौ में से केवल एक मरीज का ही लीवर ट्रांसप्लांट हो पाता है. 80% लोगों को लीवर का कैंसर मोटापे, शराब या फिर हेपेटाइटिस बी या सी की वजह से होता है. भारत में चार करोड़ लोगों को हेपेटाइटिस-बी है और करीब 80 लाख लोगों को हेपेटाइटिस सी.

लीवर दुरुस्त है कि नहीं इसको समझने को लेकर डॉ सरीन ने सुझाव भी दिए. अगर हम अपना वजन जैसे आपकी लंबाई 150 सेंटीमीटर है तो उसमें से 100 घटा दें. 150 में से 100 घटा तो 50 हुआ, इतना आपका अगर वजन है तो लीवर आपका हेल्दी है. पर अगर 'हाइट माइनस 100' का फॉर्मूला भूल गए तो याद रखिएगा मोटापा, फैटी लीवर आपको ले डूबेगा.

टिप्पणियां
VIDEO : अंगदान जीवन का तोहफा

डॉक्टर तो सोच-विचार में जुटे हैं पर सरकार को भी सहयोग करना होगा. हेपेटाइटिस-बी की दवाई तो दो से तीन साल में आने वाली है पर उपलब्ध हेपेटाइटिस-सी की दवाइयां टीबी और एड्स की तर्ज पर सरकार की घोषणा के बावजूद अब तक मुफ्त उपलब्ध नहीं हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement