आम आदमी पार्टी विधायकों के खिलाफ दिल्ली सरकार के अफसरों ने मोर्चा खोला

दिल्ली इंजीनियर्स एसोसिएशन ने विधानसभा स्पीकर को चिट्ठी लिखकर शिकायत की, विशेष रवि व अन्य विधायकों पर कार्रवाई की मांग

आम आदमी पार्टी विधायकों के खिलाफ दिल्ली सरकार के अफसरों ने मोर्चा खोला

दिल्ली सरकार के अफसरों ने विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल से आप विधायकों के खिलाफ शिकायत की है.

खास बातें

  • जल बोर्ड के सीईओ केशव चंद्रा सहित अन्य अधिकारियों से बदसलूकी का आरोप
  • पानी की समस्या की शिकायतों को लेकर आयोजित बैठक में हुई घटना
  • अफसर मंत्रियों के आदेश नहीं मानते, उप राज्यपाल से लेते हैं निर्देश
नई दिल्ली:

दिल्ली सरकार के अधिकारियों ने अब सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी के विधायकों के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. उन्होंने दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल को शिकायत भेजकर आप विधायक विशेष रवि और कुछ अन्य के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

दरअसल दिल्ली विधानसभा की एक समिति है 'कमेटी ऑन गवर्नमेंट अंडरटेकिंग' जो कि दिल्ली में पानी की समस्या की शिकायतों को लेकर दिल्ली जल बोर्ड के अधिकारियों के साथ शुक्रवार को बैठक कर रही थी. इस कमेटी के अध्यक्ष आप विधायक विशेष रवि हैं और बाकी सदस्य अन्य विधायक हैं. दिल्ली इंजीनियर्स एसोसिएशन ने स्पीकर को चिट्ठी लिखकर शिकायत की है कि समिति के अध्यक्ष विशेष रवि और अन्य सदस्य विधायकों ने दिल्ली जल बोर्ड के सीईओ केशव चंद्रा और दूसरे आला अधिकारियों के साथ बदसलूकी की है इसलिए उन पर कार्रवाई की जाए.

मामला यह है कि अब दिल्ली की केजरीवाल सरकार के अफसर मंत्रियों के आदेश नहीं मानते बल्कि सीधे उप राज्यपाल से निर्देश लेते हैं. ऐसे में आम आदमी पार्टी के विधायक अधिकारियों से काम करवाने के लिए विधानसभा की अलग-अलग समितियों में अधिकारियों की जवाबदेही तय करने की कोशिश करते हैं.

Newsbeep

यह भी पढ़ें - अपनी पार्टी के ही विधायकों और अफसरों से परेशान हैं अरविंद केजरीवाल, कहा- जनता से मिलो

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इससे पहले भी विधानसभा की पिटीशन कमेटी ने आम आदमी पार्टी सरकार के तहत आने वाले पीडब्लूडी विभाग के सचिव अश्विनी कुमार के खिलाफ जांच करने, और जांच पूरी होने तक पदमुक्त करने की सिफारिश की थी. कमेटी का कहना था कि पीडब्लूडी ने अपना नाला साफ करने का काम ठीक से नहीं किया और बरसात से पहले दिल्ली के नाले साफ नहीं हुए. जबकि पीडब्लूडी सचिव को निजी तौर पर सीएम ने भी नाला सफाई ठीक से सुनिश्चित करने को कहा था.