दिल्ली : आज से खुले धार्मिक स्थल, जाने से पहले इन बातों का रखें ख्याल

धार्मिक स्थल आने वाले श्रद्धालुओं को कुछ शर्तों के साथ प्रवेश मिलेगा. दिल्ली के सभी धार्मिक स्थलों में भी बीते कुछ दिनों से तैयारियां की जा रही थीं.

दिल्ली : आज से खुले धार्मिक स्थल, जाने से पहले इन बातों का रखें ख्याल

धार्मिक स्थलों पर श्रद्धालुओं की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • आज से खुल रहे धार्मिक स्थल
  • मास्क पहनकर ही मिलेगा प्रवेश
  • एंट्री गेट पर होगी थर्मल स्क्रीनिंग
नई दिल्ली:

कोरोनावायरस लॉकडाउन (Coronavirus Lockdown) के दौरान करीब दो महीने तक बंद रहने के बाद सोमवार यानी आज से देश में शॉपिंग मॉल, धार्मिक स्थल, होटल और रेस्तरां फिर से खुलने जा रहे हैं. नए नियमों के तहत प्रवेश के लिए टोकन प्रणाली जैसी व्यवस्थाएं होंगी. वहीं मंदिरों में प्रसाद आदि का वितरण नहीं होगा. धार्मिक स्थल आने वाले श्रद्धालुओं को कुछ शर्तों के साथ प्रवेश मिलेगा. दिल्ली के सभी धार्मिक स्थलों में भी बीते कुछ दिनों से तैयारियां की जा रही थीं. इससे जुड़ी समितियों का मानना है कि धार्मिक स्थल खुलने से हालात धीरे-धीरे सामान्य होंगे.

दिल्ली के ज्यादातर चर्च आज से नहीं खुल रहे हैं. कनॉट प्लेस स्थित सेक्रेड हार्ट चर्च के स्टाफ ने बताया कि चर्च में सैनिटाइजेशन का काम चल रहा है और चर्च खोलने में अभी 3-4 दिन और लगेंगे. बंगला साहिब गुरुद्वारा की साफ-सफाई का काम हो चुका है और वहां पर आने वाले श्रद्धालुओं के लिए एंट्री गेट पर एक डिसइंफेक्शन टनल भी लगाई गई है. एंट्री गेट पर लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग भी होगी.

गुरुद्वारा परिसर में कई जगहों पर सैनिटाइजर भी रखा गया है. श्रद्धालुओं को सिर और मुंह ढककर आना होगा और उन्हें अपने जूते-चप्पल बाहर ही रखने होंगे. विजिटर्स के लिए फिलहाल सरोवर बंद रखा गया है. कोई भी श्रद्धालु भूखा न रहे इसके लिए लंगर व्यवस्था चालू रहेगी. गुरुद्वारा प्रबंधन का कहना है कि प्रसाद वितरित किया जाएगा. प्रबंधन ने कहा, 'प्रसाद वितरित करना हमारे रिवाज का हिस्सा है और ये जारी रहेगा. अगर सरकार लंगर को अनुमति दे सकती है, जहां काफी संख्या में लोग खाते हैं तो प्रसाद पर पाबंदी क्यों है.'

बताते चलें कि गृह मंत्रालय द्वारा जारी किए दिशा-निर्देशों के अनुसार, प्रसाद वितरित करने पर मनाही है. धार्मिक स्थलों पर रखे पवित्र ग्रंथों को छूने पर भी पाबंदी है. कनॉट प्लेस स्थित हनुमान मंदिर की बात करें तो यहां केंद्र सरकार द्वारा जारी किए गए सभी मानकों का पालन किया जाएगा. एक समय पर 10 से ज्यादा श्रद्धालुओं को मंदिर में आने की इजाजत नहीं होगी. समूह में प्रार्थना करने की अनुमति नहीं होगी. भजन व आरती के लिए लाउडस्पीकर का प्रयोग किया जाएगा.

दिल्ली स्थित जामा मस्जिद में नमाज के दौरान भी लाउडस्पीकर का इस्तेमाल किया जाएगा. समय-समय पर बताया जाएगा कि बच्चे व बुजुर्ग घर पर ही नमाज अदा करें. जामा मस्जिद में सामान्य तौर पर करीब 2000 लोग नमाज अदा करते हैं लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए 500 से 700 लोगों को ही इसकी अनुमति दी जाएगी. हौज को बंद कर दिया गया है और लोगों को अपने साथ सैनिटाइजर लाने को कहा गया है. मस्जिद से सभी मैट हटा दी गई हैं. लोगों से खुद मैट लाने को कहा गया है. 6 फीट पर फ्लोर मार्किंग की गई है. नमाज के दौरान भी मास्क अनिवार्य होगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO: खुलने के ल‍िए तैयार हो रहे धार्मिक स्थल, सरकार के दिशानिर्देशों के अनुसार तैयारी