NDTV Khabar

अयोध्या को लेकर हाईअलर्ट पर थी दिल्ली, फिर भी दिनदहाड़े ज्वेलरी शॉप में हो गई लाखों की डकैती, देखें VIDEO

यह पूरी वारदात ज्वेलरी शॉप पर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई. घटना की जानकारी मिलने के बाद दिल्ली पुलिस ने घटना को लेकर जांच शुरू कर दी है.  

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अयोध्या को लेकर हाईअलर्ट पर थी दिल्ली, फिर भी दिनदहाड़े ज्वेलरी शॉप में हो गई लाखों की डकैती, देखें VIDEO

दिल्ली में सरेआम डकैती

खास बातें

  1. दिन-दहाड़े आरोपियों ने की लूटपाट
  2. दिल्ली पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था की खुली पोल
  3. दिल्ली के बेगमपुर की है घटना
नई दिल्ली:

दिल्ली में अपराधी इस कदर बेखौफ हैं कि उन्हें हाईअलर्ट का भी खौफ नहीं है. शनिवार को एक ऐसी ही घटना रोहिणी स्थित बेगमपुर इलाके में सामने आई है. यहां अयोध्या पर आने वाले फैसले को लेकर दिल्ली पुलिस की मुस्तैदी और पेट्रोलिंग के बावजूद बदमाशों ने एक ज्वलेरी शॉप पर दिनदहाड़े डकैती को अंजाम दे दिया. बता दें कि शनिवार को अयोध्या पर आने वाले फैसले को लेकर दिल्ली पुलिस को अलर्ट पर रखा गया है. साथ ही दिल्ली के तमाम इलाकों में किसी तरह की कानून व्यवस्था न बिगड़े इसके लिए अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती भी की गई थी. यह पूरी वारदात ज्वेलरी शॉप पर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई. घटना की जानकारी मिलने के बाद दिल्ली पुलिस ने घटना को लेकर जांच शुरू कर दी है.


इस वीडियो में दिख रहा है कि कुछ अपराधी पहले दुकान में एक खरीददार के तौर पर घुसते हैं. इसके बाद उनके कुछ और साथी दुकान में आते ही. इसी दौरान सभी दुकानदार को बातों में लगाने के साथ-साथ अपनी पिस्तोल बाहर निकालते हैं और दुकानदार को नीचे बैठने बोलते हैं. दुकानदार के नीचे बैठते ही एक आरोपी उसके पास जाता है उसकी पिटाई शुरू कर देता है. इस दौरान गिरोह के अन्य सदस्य दुकान में रखे आभूषण को अपने बैग में भरने लगते हैं. मिली जानकारी के अनुसार बदमाशों ने दुकान से 25 से 30 लाख रुपये की ज्वेलरी और एक रुपये लूटा है. 

दिल्ली: पुलिस के हत्थे चढ़े शातिर बदमाश, ऑटो ड्राइवर की वर्दी पहनकर देते थे वारदात को अंजाम

दिल्ली में लूटपाट की इस तरह की यह कोई पहली घटना नहीं है. कुछ महीने पहले ही उत्तरी दिल्ली के पॉश इलाके मॉडल टाउन में कार में सवार एक परिवार के साथ बंदूक के ज़ोर पर तब लूटपाट की गई थी, जब वह अपने घर की चारदीवारी के भीतर घुस चुके थे, और उसे पार्क कर रहे थे. तीन नकाबपोश बदमाशों ने कार में मौजूद पति-पत्नी से कीमती सामान लूटा, और फरार हो गए. इस दौरान बच्चे कार में ही सो रहे थे. पूरी वारदात घर में लगे CCTV कैमरे में रिकॉर्ड हो गई थी.

दिल्ली पुलिस के साथ मुठभेड़ में एक लाख का इनामी बदमाश गिरफ्तार और दूसरा घायल

परिवार के मुखिया वरुण बहल के मुताबिक, जब वह शनिवार देर रात (रविवार तड़के) अपनी ससुराल से लौट रहे थे, उन्होंने तीन नकाबपोशों को अपने घर के बाहर मोटरसाइकिल पर देखा. घबराहट में उन्होंने घर में नहीं जाने का फैसला किया, और कार को आगे ले गए थे. वरुण बहल की शिकायत के अनुसार, "फिर एहसास हुआ कि रात के वक्त घर के दरवाज़े खुले हुए हैं, तो मैं घर की तरफ लौटा, और कार को सामने वाले बरामदे में पार्क कर दिया..."

इसके बाद की पूरी वारदात पार्किंग एरिया में लगे CCTV कैमरे में कैद हुई थी, जिसमें वरुण को अपनी मर्सिडीज़ कार से बाहर निकलते और लोहे का गेट बंद करने के लिए दौड़कर जाते देखा जा सकता है, लेकिन तभी तीन लोग उन पर बंदूक ताने हुए घर में घुस आते हैं.

वरुण बहल ने कहा था कि नकाबपोशों ने उनका पर्स और सोने का बना ब्रेसलेट ले लिया. शिकायत में लिखा गया है, "उन्हें मेरी घड़ी में दिलचस्पी नहीं थी..." वीडियो में कार में बैठी उनकी पत्नी को अपने बच्चों के साथ बैठे देखा जा सकता है, जिनमें से एक उनकी गोद में ही सो रहा है. वरुण की पत्नी अपना फोन निकालते हुए नज़र आती हैं, संभवतः पुलिस को ही कॉल करने के लिए.

VIDEO: दिल्‍ली में बदमाशों ने की महिला की चेन लूटने की कोशिश, बाइक से घसीटा भी

लेकिन तभी लुटेरों में से एक उनकी दिशा में आता है, दरवाज़ा खोलता है, और कार की तलाशी लेनी शुरू कर देता है. पूरे वक्त वरुण की पत्नी अपने बच्चे को लिपटाए हुए चुपचाप बैठी रहती हैं. वरुण की बड़ी संतान कार की पिछली सीट पर बैठी है. वरुण ने कहा था कि उसने मेरी पत्नी से पूछा कि क्या गले में कोई चेन पहनी है, जो उन्होंने नहीं पहनी थी..." वरुण के मुताबिक, जब उस बदमाश को उनकी पत्नी का पर्स भी नहीं मिला (जिसे उन्होंने सीट के नीचे छिपा दिया था), वह उनका फोन छीनकर ले गया.

टिप्पणियां

पुलिस के हत्थे चढ़े 8 चोर, कोई डांसर तो कोई लॉक तोड़ने का एक्सपर्ट

तीनों बदमाशों ने वरुण को कार की तरफ लौटने के लिए मजबूर किया, जब वह खड़े हुए, बदमाशों में से एक ने उन पर बंदूक तान दी, और फिर वहां से चले गए. वरुण ने शिकायत में लिखा, "हम इतना डर गए थे कि हम सिर्फ घर के भीतर कमरे में बंद रहना चाहते थे... हमारे बच्चे भी लगातार रोते रहे...पुलिस ने FIR दर्ज कर ली है, लेकिन फिलहाल कोई गिरफ्तारी नहीं हो पाई है. पुलिस का कहना है कि इन तीन बदमाशों ने इसी तरह के हमले पहले भी किए हैं, और उन्होंने पुलिस वालों पर गोलियां भी दागी थीं.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement