दिल्ली के सरकारी स्कूलों की दशा सुधरी! 12 बच्चों ने क्वालीफाई किया आईआईटी जी मेंस

दिल्ली के सरकारी स्कूलों की दशा सुधरी! 12 बच्चों ने क्वालीफाई किया आईआईटी जी मेंस

आईआईटी मद्रास (प्रतीकात्मक फोटो)

खास बातें

  • दिल्ली के शिक्षामंत्री सिसोदिया ने ट्वीट कर लोगों को बताया
  • सीएम अरविंद केजरीवाल ने किया रीट्वीट
  • समर्थकों का दावा, सुधर रही शिक्षा व्यवस्था.
नई दिल्ली:

दिल्ली के सरकारी स्कूलों की बदहाली और शिक्षा के स्तर पर हमेशा से सवाल उठते रहे हैं. स्कूलों की पढ़ाई की दुर्दशा का रोना होता रहा है. ऐसे में अगर यह खबर आए कि दिल्ली की सरकारी स्कूलों से बच्चों ने आईआईटी जैसी परीक्षा पास की है, तब सब यह सोचने को मजबूर होंगे कि क्या वाकई दिल्ली के सरकारी स्कूल का शिक्षा स्तर बदहाल है.

दिल्ली में करीब दो साल पहले आम आदमी पार्टी की सरकार बनी. पार्टी के जुझारू नेताओं में एक मनीष सिसोदिया राज्य के उपमुख्यमंत्री बने और शिक्षा विभाग की जिम्मेदारी अपने हाथों में ली. तब से लगातार आम आदमी पार्टी की सरकार लोगों के बीच जाकर शिक्षा व्यवस्था और शिक्षा के स्तर में सुधार के लिए सलाह मांगती रही और जरूरी सलाह स्कूलों में लागू भी किए गए.

इस पूरे मामले में खुद दिल्ली के उपमुख्यमंत्री होने के नाते मनीष सिसोदिया ने कई बार कई स्कूलों का औचक निरीक्षण किया. कई मौकों पर बदलाव के लिए जो भी संभव प्रयास अपने स्तर से हो सकते थे वह लागू करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी. बताया जाता है कि दिल्ली के सरकारी स्कूलों में शिक्षा के स्तर को सुधारने, बच्चों को कंप्यूटर का भरपूर ज्ञान देने की दिशा में भी कई कदम उठाए गए.

Newsbeep

 


अब दिल्ली के शिक्षा मंत्री और राज्य के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर बताया कि इस बार दिल्ली के सरकारी स्कूल से 12 बच्चों ने आईआईटी जी मेंस के लिए क्वालीफाई किया है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


 


यह दिल्ली के शिक्षा मंत्री होने के नाते गर्व की बात है. मनीष सिसोदिया के इस ट्वीट को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी री ट्वीट किया है.