Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

पत्नी की आदतों से तंग आकर इंजीनियर पति ने दी जान, सुसाइड नोट में लिखी यह बात

फरीदाबाद पुलिस सूत्रों के मुताबिक, 45 साल के शिवकुमार पेशे से सिविल इंजीनियर थे. पुलिस को मिले सुसाइड नोट में शिवकुमार ने अपनी मौत के लिए बदचलन और लड़ाकू पत्नी और उसके प्रेमी को जिम्मेदार ठहराया है

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पत्नी की आदतों से तंग आकर इंजीनियर पति ने दी जान, सुसाइड नोट में लिखी यह बात

प्रतीकात्मक तस्वीर

खास बातें

  1. पत्नी की चिक-चिक से परेशान होकर एक इंजीनियर ने जहर खाकर जान दे दी
  2. 45 साल के शिवकुमार पेशे से सिविल इंजीनियर थे
  3. शिवकुमार ने अपनी मौत के लिए बदचलन और लड़ाकू पत्नी को जिम्मेदार ठहराया
फरीदाबाद:

पत्नी से आए-दिन होने वाली चिक-चिक से परेशान होकर एक इंजीनियर ने जहर खाकर जान दे दी. सूत्रों के अनुसार, जहर खाने के बाद पहले उसे गंभीर हाल में अस्पताल में दाखिल कराया गया, जहां उसकी मौत हो गई. इंजीनियर का नाम शिव कुमार है. फरीदाबाद पुलिस सूत्रों के मुताबिक, 45 साल के शिवकुमार पेशे से सिविल इंजीनियर थे. पुलिस को मिले सुसाइड नोट में शिवकुमार ने अपनी मौत के लिए बदचलन और लड़ाकू पत्नी और उसके प्रेमी को जिम्मेदार ठहराया है. पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है. बता दें, इस सुसाइड नोट के आधार पर ही सिविल इंजीनियर के बड़े भाई ने उसकी पत्नी और प्रेमी के खिलाफ फरीदाबाद सेक्टर-16 थाने में केस दर्ज कराया है. परिजनों के मुताबिक, शिवकुमार संत नगर में रहते थे. पत्नी और उसके प्रेमी से होने वाले रोज-रोज झगड़ों से दूर रहने के लिए उन्होंने सेक्टर-55 में रहना शुरू कर दिया था.

Ayodhya Case : फैसले के मद्देनजर फरीदाबाद में सतर्कता, पुलिस को सख्त निर्देश


उन्होंने बताया कि जब सन् 1999 में शिवकुमार की शादी हुई तब वह गुजरात में नौकरी करता था. पत्नी और बच्चों के चलते वह कुछ समय पहले गुजरात से भिवानी में नौकरी करने चला आया.  सप्ताहंत में वह भिवानी से फरीदाबाद स्थित घर आता था. इसी बीच पत्नी के पड़ोस में रहने वाले एक टैक्सी कैब चालक से अवैध संबंध बन गए. उसके बाद घर में रोज-रोज का कलेश और बढ़ गया. इतना ही नहीं 22 अप्रैल को पत्नी छोड़कर भी चली गई. आरोप है कि पत्नी ने मायके वालों की मदद से शिवकुमार की कार भी हड़प ली. इसके बाद भी बीबी ने पीड़ित के ऊपर दहेज प्रताड़ना का मुकदमा दर्ज करा डाला, जो कि बाद में राजीनामा होने पर खत्म हो गया.

Delhi-NCR में प्रदूषित ईंधन से चलने वाले उद्योग आठ नवंबर तक रहेंगे बंद: EPCA

वहीं पुलिस के मुताबिक, 10-12 दिन पहले ही पत्नी फरीदाबाद लौटी थी. घर में फिर कलेश शुरू हो गया. मंगलवार को भी दोनों के बीच कहासुनी हुई. इसी से परेशान होकर शिवकुमार ने घर में ही जहर खा लिया. बी.के. सिविल अस्पताल में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई.

टिप्पणियां

VIDEO : पुलिस का मिश्रित आबादी वाले इलाकों पर फोकस



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... टीम इंडिया को वर्ल्ड कप जिताने वाला 'DSP' निकला सड़कों पर, ऐसे कराया शहर Lockdown, देखें Video

Advertisement