NDTV Khabar

अपनी मांगों लेकर संसद के निकट ‘महाधरना’ देंगे किसान

अखिल भारतीय किसान सभा के राष्ट्रीय महासचिव अतुल कुमार अंजान ने एक बयान में कहा, ‘जून 2017 से उक्त मांगों को लेकर किसान राज्य ,जिला एवं गांव स्तर पर सभा जुलूस निकाल रहे हैं.

11 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
अपनी मांगों लेकर संसद के निकट ‘महाधरना’ देंगे किसान

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली: स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों को लागू कराने, भूमि अधिग्रहण विधेयक-2014 को वापस लेने और किसानों के कर्ज माफ करने की मांग को लेकर अगले हफ्ते किसान यहां संसद के निकट ‘महाधरना’ देंगे. अखिल भारतीय किसान सभा के राष्ट्रीय महासचिव अतुल कुमार अंजान ने एक बयान में कहा, ‘जून 2017 से उक्त मांगों को लेकर किसान राज्य ,जिला एवं गांव स्तर पर सभा जुलूस निकाल रहे हैं. अब विभिन्न राज्यों के किसान 1 से 5 नवम्बर तक संसद पर महाधरना देने के लिए रोजाना रामलीला मैदान से कूच करेंगे. इसमें उतर पूर्व-मध्य एवं दक्षिण भारत के 17 राज्यों से हजारों किसान भाग लेंगे.’

यह भी पढ़ें : बुंदेलखंड: सूखे से जूझ रहे किसानों को अब 'राम' नाम का सहारा!

उन्होंने कहा कि इस ‘महाधरने’ को संसद सदस्य ,राजीतिक दलों के नेता, जाने माने साहित्यकार ,रंगमंच कलाकार और सामाजिक कायकर्ता सम्बोधित करेगे. किसानो का प्रतिनिधि मंडल राष्ट्रपति से मिलकर ज्ञापन सौंपेगा.

VIDEO : उत्तर प्रदेश : मंत्री जी के काफिले ने रौंद डाली किसान की फसल​

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement