NDTV Khabar

जुनैद की हत्या के मामले में चार और आरोपी गिरफ्तार, 10-15 लड़कों से की गई पूछताछ

सभी चार आरोपी कल (गुरुवार को) कोर्ट में पेश किए जाएंगे. इस तरह मामले में अभी तक कुल 5 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं.

41 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जुनैद की हत्या के मामले में चार और आरोपी गिरफ्तार, 10-15 लड़कों से की गई पूछताछ

जुनैद की हत्या के मामले में असावती रेलवे स्टेशन के समीप सीसीटीवी फुटेज में संदिग्धों की तस्वीरें मिली हैं.

खास बातें

  1. जिस लड़के की जुनैद से शुरुआत में बहस हुई थी उसे गिरफ्तार कर लिया गया है.
  2. गिरफ्तार लोगों में 3 लड़के और एक 50 साल का व्यक्ति शामिल है.
  3. सभी आरोपी कल (गुरुवार को) कोर्ट में पेश किए जाएंगे.
नई दिल्‍ली/फरीदाबाद: हरियाणा में फरीदाबाद जिले के बल्लभगढ़ क्षेत्र में जुनैद नामक युवक की पीट-पीटकर हत्या करने के मामले में बुधवार को चार और आरोपियों को गिरफ्तार कर‍ लिया गया है. इस मामले में 10-15 लड़कों से पूछताछ की गई थी. इससे पहले मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया जा चुका है.

जानकारी के अनुसार जिस लड़के की जुनैद से शुरुआत में बहस हुई थी उसे गिरफ्तार कर लिया गया है.जो चार लोग पकड़े गए हैं, उनमें में एक आरोपी 50 साल का है जो दिल्ली एमसीडी में इंस्पेक्टर है. बाकी तीन आरोपियों में से दो की उम्र 20-20 साल है और एक आरोपी की उम्र 30 साल है. यह सभी पलवल के पास के रहने वाले हैं जो निजी कपंनी में काम करते हैं. पुलिस इनकी शिनाख्त परेड कराएगी. इन सभी को धारा 307, 302, 341, 289 के तहत गिरफ्तार किया गया है.

बताया जा रहा है कि आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल लिया है. यह आरोपी सीसीटीवी के फुटेज में नहीं हैं. हालांकि चाकू मारने वाले शख्‍स को अभी गिरफ्तार नहीं किया गया है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक सीसीटीवी के फुटेज में नीली टी शर्ट पहने और कंधे पर काला बैग टांगे हुए जो शख्स सबसे पीछे दिख रहा है, वही मुख्य आरोपी है. पकड़े गए सभी चार आरोपी कल (गुरुवार को) कोर्ट में पेश किए जाएंगे. इस तरह मामले में अभी तक कुल 5 लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं.

इससे पूर्व मंगलवार को मामले को लेकर मेवात में मुस्लिमों की महापंचायत हुई. इसमें निर्णय लिया गया कि पीड़ितों को न्याय दिलाने के लिए दिल्ली में दो से चार जुलाई तक, यानी तीन दिन तक विरोध-प्रदर्शन किया जाएगा. इस महापंचायत में मेवात, पलवल, फरीदाबाद, गुरग्राम, भरतपुर और अलवर के 300 मुस्लिम प्रतिनिधियों ने शिरकत की.

तेज गर्मी और उमस के बीच गांधी पार्क में हुए आयोजन में कई नेता, वकील और 80 गांवों के सरपंच शामिल हुए. इसमें फैसला किया गया कि दिल्ली के जंतर-मंतर पर 200 लोग बारी-बारी से धरने पर बैठेंगे. विरोध प्रदर्शन का प्रबंध करने के लिए 31 सदस्यों की समिति बनाई गई है.

उल्‍लेखनीय है कि दिल्ली के सदर बाजार से 22 जून को अपने दो भाइयों के साथ खरीदारी कर मथुरा जाने वाली ट्रेन से लौट रहे जुनैद की हत्या कर दी गई थी. कथित तौर पर सीट को लेकर हुए विवाद के बाद लोगों के एक समूह ने इन लोगों पर सांप्रदायिक टिप्पणी की और विवाद बढ़ने पर हमला कर दिया. 

(इनपुट एजेंसी से भी)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement