Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

सरकारी कर्मचारियों के आवास के लिये दिल्ली में नहीं काटे जायेंगे पेड़, फिर से बनेगी रूपरेखा

वहीं हरदीप सिंह पुरी के इस हमले पर आम आदमी पार्टी के नेता सौरभ भारद्वाज ने पलटवार किया है. ट्वीट कर कहा है अगर सभी स्टेक होल्डर्स को बैठक में बुलाया गया था तो फिर दिल्ली के पर्यावरण मंत्री को क्यों नहीं बुलाया गया?

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सरकारी कर्मचारियों के आवास के लिये दिल्ली में नहीं काटे जायेंगे पेड़, फिर से बनेगी रूपरेखा

फाइल फोटो

खास बातें

  1. हरदीप सिंह पुरी ने दी जानकारी
  2. 'आप' ने उठाये सवाल
  3. फिर से बनेगी रूपरेखा
नई दिल्ली:

सरकारी कर्मचरियों के आवास के लिए दिल्ली की सात कॉलोनियों में क़रीब 14000 पेड़ काटे जाने की योजना पर मचे बवाल के बाद अब पेड़ न काटे जाने का फ़ैसला लिया गया है. बीती रात NBCC और CPWD के साथ बैठक में केंद्रीय आवासीय और शहरी विकास राज्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने पेड़ों को बचाने के लिए इस प्रोजेक्ट पर दोबारा काम करने और इसकी रूपरेखा फिर से बनाने का आदेश दिया है. पेड़ न काटे जाने के फ़ैसले के बाद केंद्रीय आवासिय और शहरी विकास राज्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने ट्वीट कर कहा कि पेड़ों की कटाई की मंज़ूरी दिल्ली सरकार के पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन की सिफ़ारिश पर वन विभाग ने दी थी. अब हमने एजेंसियों को इस प्रोजेक्ट पर नए सिरे से काम करने को कहा है. 
 

वहीं हरदीप सिंह पुरी के इस हमले पर आम आदमी पार्टी के नेता सौरभ भारद्वाज ने पलटवार किया है. ट्वीट कर कहा है अगर सभी स्टेक होल्डर्स को बैठक में बुलाया गया था तो फिर दिल्ली के पर्यावरण मंत्री को क्यों नहीं बुलाया गया? क्योंकि वो कभी स्टेकहोल्डर थे ही नहीं. जब केंद्र सरकार पेड़ों की कटाई पर घिर गई तब उन्हें स्टेकहोल्डर बनाया गया. 
 

टिप्पणियां

आपको बता दें कि दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल, मंत्रालय के सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा और एनबीसीसी के अध्यक्ष एके मित्तल सहित मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों की मौजूदगी में हुयी बैठक में पेड़ों काटने की संभावना को नगण्य करने के तरीकों पर विचार किया गया. बैठक में इस बात पर भरोसा दिलाया गया कि परियोजना के दौरान अगले तीन महीनों में लगभग 11 लाख पेड़ लगा दिये जायेंगे. इनमें से एनबीसीसी 25 हजार, सीपीडब्ल्यूडी 50 हजार, डीडीए दस लाख और दिल्ली मेट्रो 20 हजार पेड़ लगायेगी. पुरी ने स्पष्ट किया कि पेड़ काटने के एवज में पौधे नहीं बल्कि आठ से 12 फुट के विकसित पेड़ लगाये जायेंगे जो कि एक साल के भीतर पूर्णरूप से विकसित हो जायेंगे.


 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Tanhaji Box Office Collection Day 43: अजय देवगन की फिल्म ने बनाया कमाई का नया रिकॉर्ड, जानें कुल कलेक्शन

Advertisement