NDTV Khabar

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद गुरुग्राम प्रशासन ने पटाखों की बिक्री पर प्रतिबंध लगाया

उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद प्रशासन ने गुरुग्राम जिले में एक नवंबर तक पटाखों की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया है. साथ ही अपने अधिकारियों को गोदामों और दुकानों का निरीक्षण करने के निर्देश दिए हैं.

51 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद गुरुग्राम प्रशासन ने पटाखों की बिक्री पर प्रतिबंध लगाया

प्रतीकात्मक तस्वीर.

खास बातें

  1. प्रशासन ने 1 नवंबर तक पटाखों की बिक्री पर लगाई रोक
  2. अधिकारियों को गोदामों और दुकानों का निरीक्षण करने के दिए निर्देश
  3. सुप्रीम कोर्ट ने प्रदूषण के कारण पटाखों की बिक्री पर लगाई है रोक
गुरूग्राम: सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद प्रशासन ने गुरुग्राम जिले में एक नवंबर तक पटाखों की बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया है. साथ ही अपने अधिकारियों को गोदामों और दुकानों का निरीक्षण करने के निर्देश दिए हैं. जिला मजिस्ट्रेट विनय प्रताप सिंह ने कहा कि इस कदम से वायु प्रदूषण की जांच करने में मदद मिलेगी जो पिछले साल राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में दिवाली के दौरान खतरनाक स्तर पर पहुंच गया था.

यह भी पढ़ें : गाजियाबाद में 40 से अधिक पटाखे की दुकानें सील

अधिकारी ने कहा कि त्योहार के दौरान और बाद में पटाखे जलाए जाने के कारण वायु गुणवत्ता 'काफी और चिंताजनक रूप से' बिगड़ती जा रही है. उच्चतम न्यायालय के दिल्ली और एनसीआर में पटाखों की बिक्री पर प्रतिबंध लगाए जाने के निर्देशों के बाद पटाखों पर प्रतिबंध का यह आदेश आया है.

VIDEO: दिल्ली-NCR में 1 नवंबर से फिर बेचे जा सकेंगे पटाखें 


सिंह ने कहा, 'एहतियाती कदम उठाते हुए दीपावली के शांतिपूर्ण ढंग से मनाए जाने को लेकर सीआरपीसी की धारा 144 लागू की गई. जिले में पटाखों की बिक्री पर 31 अक्तूबर तक प्रतिबंध रहेगा. सिंह ने कहा, 'हमने उच्चतम न्यायालय के निर्देशों को लागू करने के सभी अधिकारियों को निर्देश दिए हैं और उनसे गोदामों तथा दुकानों का निरीक्षण करने के लिए कहा है. टीमें यह सुनिश्चित करेंगी कि जिले के प्रवेश और निकास द्वार पर किसी भी तरह के पटाखे की अनुमति नहीं दी जाए.'


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement