NDTV Khabar

Weather Updates: दिल्ली-एनसीआर में उमस से लोग हो सकते हैं बेहाल, इस दिन से होगी भारी बारिश, जानें अपने राज्य का मौसम

Weather in Delhi : दिल्ली-एनसीआर में शुक्रवार को आंशिक बादल छाए रहने के साथ उमस का दौर जारी रह सकता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Weather Updates: दिल्ली-एनसीआर में उमस से लोग हो सकते हैं बेहाल, इस दिन से होगी भारी बारिश, जानें अपने राज्य का मौसम

Delhi weather Today: दिल्ली एनसीआर में आज भी उमस रहने की संभावना

खास बातें

  1. दिल्ली-एनसीआर में उमस से लोग हो सकते हैं बेहाल
  2. इस दिन से होगी भारी बारिश
  3. जानें अपने राज्य का मौसम
नई दिल्ली:

दिल्ली-एनसीआर में शुक्रवार को आंशिक बादल छाए रहने के साथ उमस का दौर जारी रह सकता है. शुक्रवार सुबह यहां मौसम काफी सुहावना रहा. सुबह 28 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के अनुसार, दिल्ली में 13 अगस्त के बाद ही भारी बारिश की उम्मीद की जा सकती है. दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्रों में 6 अगस्त को भारी बारिश हुई थी, जिससे यातायात और सामान्य जीवन बाधित हो गया था. आईएमडी के क्षेत्रीय मौसम पूवार्नुमान प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा, "दिल्ली में फिलहाल भारी या मध्यम बारिश होने की उम्मीद नहीं है. कुछ जगहों पर बहुत हल्की बारिश या बूंदा-बांदी के साथ आसमान में आंशिक बादल छाए रहेंगे."

'किसी भी विपरीत स्थिति से निपटने के लिए सतर्क रहें', नार्दर्न आर्मी कमांडर ने सैनिकों से कहा


ओडिशा और छत्तीसगढ़ में भारी बारिश की संभावना
इसके साथ ही ओडिशा और छत्तीसगढ़ में भारी बारिश होने की संभावना व्यक्त की गई है. आईएमडी ने गुरुवार को मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, कोंकण और गोवा, केरल और कर्नाटक के अलावा ओडिशा और छत्तीसगढ़ में आगामी दो दिनों में भारी बारिश की संभावना व्यक्त की है. स्काईमेट के अनुसार, गुजरात में शुक्रवार को भारी बारिश होने की उम्मीद है.वहीं, पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड और ओडिशा में भी भारी बारिश की संभावना जताई गई है.इस बीच महाराष्ट्र और कर्नाटक में बीते कुछ दिनों में बारिश में कमी नहीं आने और प्रमुख जलाशयों से पानी छोड़े जाने के कारण बाढ़ की स्थिति अभी भी बनी हुई है. इसके साथ ही महाराष्ट्र में रायगढ़ जिले के बीरवाड़ी और असनकोली के गांवों में और सांगली और कोहलापुर जिलों के मउजे दिगराज, हरीपुर और नांद्रे गांवों में बचाव अभियान चलाया गया.

ईद से पहले पीएम मोदी का जम्मू-कश्मीरवासियों को संदेश, बोले- सरकार यह सुनिश्चित कर रही है कि...

यूपी में कुछ इलाकों में तेज हवाओं के साथ बारिश के आसार
उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ समेत अन्य क्षेत्रों में रुक-रुक कर हो रही बारिश ने उमस को बढ़ा दिया है. मौसम विभाग ने आज भी कुछ इलाकों में तेज हवाओं के साथ बारिश की संभावना जताई है. गुरुवार को लखनऊ का न्यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था. मौसम विभाग के अनुसार गुरुवार को भी बादलों की आवाजाही रहेगी. अगले दो दिनों के प्रदेश में मौसम की गतिविधियां बढ़ सकती हैं. अरब सागर से आने वाली नम हवाओं के कारण कुछ हद तक उमस से राहत मिलेगी. पूरे सप्ताह इसी तरह मौसम रहने के आसार हैं. गुरुवार को कानपुर का न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस, आगरा 27 डिग्री, गोरखपुर 25 डिग्री, बरेली 24 डिग्री, फैजाबाद 26 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया था.

मध्य प्रदेश में बारिश का कहर: खाली हो रहे 34 गांव, बाढ़ का पानी घरों और दुकानों में घुसने से लोग बेहाल

मध्य प्रदेश में भारी बारिश के आसार
मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल सहित राज्य के कई अन्य हिस्सों में बादल छाए हुए हैं. वहीं मौसम विभाग ने राज्य के कई हिस्सों में बारिश का दौर जारी रहने की संभावना जताई है. राज्य में मानसून की सक्रियता बनी हुई है.  राज्य में बारिश के चलते गर्मी और उमस का असर भी कम हुआ है. मौसम विभाग के अनुसार, बंगाल की खाड़ी में बने शक्तिशाली सिस्टम के चलते राज्य में बारिश हो रही है. यह सिलसिला आगे भी जारी रह सकता है. वहीं, कई स्थानों पर भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है. बीते 24 घंटों के दौरान गुना में 114.8 मिलीमीटर, खंडवा में 137, खरगोन में 106.5 मिलीमीटर, उज्जैन में 46 मिलीमीटर, छिंदवाड़ा में 101 मिलीमीटर, जबलपुर में 111 मिली मीटर बारिश दर्ज की गई है. राज्य में हुई बारिश से तापमान में भी गिरावट आई है. गुरुवार को भोपाल का न्यूनतम तापमान 23.4 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 22.6, ग्वालियर का 25.3 और जबलपुर का न्यूनतम तापमान 24 सेल्सियस दर्ज किया गया.

'गांधी परिवार' के किसी भी सदस्य ने नहीं लिया प्रणब मुखर्जी के भारत रत्न पुरस्कार समारोह में हिस्सा

महाराष्ट्र, केरल और तमिलनाडु में हालात गंभीर 
महाराष्ट्र ,केरल और तमिलनाडु में बाढ़ से हालत गंभीर बनी हुए है. भारी बारिश, तेज हवाओं और भूस्खलन से भारी तबाही हुई है और गुरुवार को वर्षाजनित हादसों में 15 लोगों की मौत होने की खबरे हैं. महाराष्ट्र के पांच पश्चिमी जिलों में दो लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, गोवा, महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक और केरल में अगले दो दिन में भीषण बारिश होने का अनुमान है. पश्चिमी महाराष्ट्र में बाढ़ प्रभावित सांगली जिले में बृहस्पतिवार को एक बचाव नौका के पलट जाने से नौ लोग डूब गए. मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने सांगली और कोल्हापुर में बाढ़ की स्थिति की समीक्षा के लिए हवाई सर्वेक्षण किया. क्षेत्र में भारी वर्षा के बाद ये सबसे अधिक प्रभावित जिले हैं जहां कृष्णा और पंचगंगा नदियों का जलस्तर बढ़ा हुआ है. केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने फडणवीस से बात की और बाढ़ से निपटने के लिए केंद्र से हरसंभव सहायता का आश्वासन दिया. (इनपुट भाषा)

टिप्पणियां

VIDEOमहाराष्ट्र में बारिश का कहर, सीएम ने राहत कार्य का जायजा लिया​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement