NDTV Khabar

मानव संसाधन विकास मंत्रालय केंद्रीय विद्यालयों को देगा रैंकिंग

सूत्रों ने बताया कि इस पहल की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है जिसका परिणाम अगले साल जून में घोषित किया जाएगा.

1Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मानव संसाधन विकास मंत्रालय केंद्रीय विद्यालयों को देगा रैंकिंग

प्रकाश जावड़ेकर (फाइल फोटो)

नई दिल्ली: मानव संसाधन विकास मंत्रालय अपने एक हजार से अधिक केंद्रीय विद्यालयों को रैंकिंग देगा जो सरकार द्वारा अपने आप में इस तरह की पहली पहल है. सरकार का यह कदम प्रतिस्पर्द्धा के जरिए इन संस्थानों में सुधार लाने पर केंद्रित है. सूत्रों ने बताया कि इस पहल की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है जिसका परिणाम अगले साल जून में घोषित किया जाएगा. उन्होंने कहा कि केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के निर्देश पर उठाया गया. यह कदम केंद्रीय विद्यालयों में सुधार लाने पर केंद्रित है. सूत्रों के अनुसार रैंकिंग के लिए स्कूलों का निरीक्षण दो बार किया जाएगा.

अगले साल से यह एक वार्षिक प्रक्रिया होगी. केंद्रीय विद्यालयों की ग्रेडिंग के लिए अधिकतम अंक 1,000 होंगे और इन्हें चार श्रेणियों में रखा जाएगा. ए-श्रेणी में 80 प्रतिशत या इससे अधिक अंक (उत्कृष्ट) हासिल करने वाले केंद्रीय विद्यालय आएंगे. बी-श्रेणी में 60-79.9 प्रतिशत अंक (बहुत अच्छा) वाले स्कूल, सी-श्रेणी में 40-59.9 प्रतिशत अंक (अच्छा) वाले स्कूल तथा डी-श्रेणी में 40 प्रतिशत (औसत) से कम अंक अर्जित करने वाले केंद्रीय विद्यालय आएंगे.

यह भी पढ़ें : केेंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर को मातृशोक, निगमबोध घाट पर होगा अंतिम संस्कार

एक हजार से अधिक केंद्रीय विद्यालयों का आकलन सात मानकों के तहत किया जाएगा. इनमें शैक्षणिक प्रदर्शन के सर्वाधिक अंक यानी कि 500 अंक होंगे.

VIDEO : जीएसटी से कर चोरी समाप्त होगी: जावडेकर


इसके बाद स्कूल अवसंरचना के 150 अंक स्कूल प्रशासन के लिए 120 अंक दिए जाएंगे. इस कड़ी में 70 अंक वित्त संबंधी और 60 अंक सामुदायिक भागीदारी के होंगे. इनमें 90 ग्रेस प्वाइंट होंगे तथा निरीक्षकों द्वारा समूचे निरीक्षण के 10 अंक होंगे. यह देश में केंद्रीय विद्यालयों की पहली रैंकिंग होगी. देश में उच्च शिक्षा संस्थानों की ग्रेडिंग राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद (नाक) द्वारा की जाती है जो विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा वित्त पोषित एक स्वायत्त इकाई है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement