Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

दिल्ली-एनसीआर समेत इन शहरों में CNG के दामों में हुई बढ़ोतरी, जेब करनी पड़ेगी ढीली

दिल्ली-एनसीआर समेत आस-पास सटे शहरी इलाकों में अब सीएनजी गैस भरवाने के लिए जेब ढीली करनी पड़ेगी. बुधवार को भारत सरकार ने अधिसूचना जारी करते हुए जानकारी दी है कि..

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली-एनसीआर समेत इन शहरों में CNG के दामों में हुई बढ़ोतरी, जेब करनी पड़ेगी ढीली

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

दिल्ली-एनसीआर समेत आस-पास सटे शहरी इलाकों में अब सीएनजी गैस भरवाने के लिए जेब ढीली करनी पड़ेगी. बुधवार को भारत सरकार ने अधिसूचना जारी करते हुए जानकारी दी है कि घरेलू प्राकृतिक गैस कम्प्रेस्ड नेचुरल गैस (CNG) और पाइप्ड नेचुरल गैस (PNG) के दामों में संशोधन की घोषणा कर दी गई है. इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड, गेल (इंडिया) लिमिटेड, BPCL और अन्य प्राकृतिक गैस की कम्पनियां के दामों में बढ़ोत्तरी हुई है. बढ़े हुए दामों की घोषणा दिल्ली, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद, रेवाड़ी, गुरुग्राम, करनाल और मुजफ्फरनगर शहरों के लिए की गई है. दिल्ली के लोगों के लिए सीएनजी गैस 1 रुपए प्रति किलो और नोएडा, ग्रेटर नोएडा व गाजियाबाद में 1.15 रुपए अधिक खर्च करने होंगे. 

अमेरिकी हेलीकॉप्टर आर सी हॉक से बढ़ेगी भारतीय नौसेना की ताकत, सौदे को मिली मंजूरी


सीएनजी उपभोक्ता को दिल्ली में 45.70 रुपये प्रति किलोग्राम और नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में 51.95 रुपये प्रति किलोग्राम में मिलेंगे. यह बढ़े हुए दाम 4 अप्रैल 2019 को सुबह 6.00 बजे से लागू कर दिए गए. वहीं गुरुग्राम और रेवाड़ी में इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड (आईजीएल) द्वारा आपूर्ति की जा रही सीएनजी की बात करें तो कीमत 57.50 रुपये प्रति किलोग्राम कर दी गई है.. करनाल में 54.50 रुपए और मुजफ्फरपुर में 60.70 रुपए प्रति किलोग्राम दाम होंगे. यह नई कीमत 4 अप्रैल 2019 को सुबह 6 बजे से लागू कर दी गई. 

हालांकि, इंद्रप्रस्थ गैस लिमिटेड (आईजीएल) अपना ऑफर जारी रखेगा. ऑफर में यदि रात 12 बजे से सुबह 6 बजे के बीच सीएनजी गैस भरवाता है तो दिल्ली समेत नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में 1.50 रुपए की छूट मिलेगी. यानी सीएनजी दिल्ली में 44.20 प्रति किलो और नोएडा, ग्रेटर नोएडा और गाजियाबाद में 50.45 रुपए प्रति किलोग्राम मिलेगी. वहीं आईजीएल ने 1 अप्रैल 2019 से अपने घरेलू PNG मूल्यों में वृद्धि की भी घोषणा की थी.

AFSPA पर कांग्रेस ने ऐसा क्या कह दिया कि BJP देश तोड़ने का आरोप लगा रही है?

टिप्पणियां

बता दें, प्राकृतिक गैस की कीमतें एक अप्रैल से 10 प्रतिशत बढ़ा दी गई है, जो तीन साल का उच्चतम स्तर है. इससे सीएनजी और पाइप वाली रसोई गैस (पीएनजी) महंगी हुई और यूरिया उत्पादन की लागत भी बढ़ गई है. सूत्रों ने कहा कि अप्रैल से सितंबर की अवधि के लिये घरेलू स्तर पर उत्पादित प्राकृतिक गैस की कीमत बढ़कर 3.69 डॉलर प्रति इकाई (एमएमबीटीयू) हो जाएगी, जो इससे पहले के छह महीने के दौरान 3.36 डॉलर थी. इसी तरह मुश्किल क्षेत्रों से उत्पादित प्राकृतिक गैस की कीमत अभी के 7.67 डॉलर से बढ़कर एक अप्रैल से 9.32 डॉलर हो जाएगी. यह प्राकृतिक गैस की कीमतों में लगातार चौथी वृद्धि है. इनकी कीमतें हर छह महीने में संशोधित की जाती हैं. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... भारत में सामने आई Coronavirus की पहली तस्वीर, देश के पहले मरीज से लिया गया था नमूना

Advertisement