NDTV Khabar

दिल्ली BJP प्रमुख मनोज तिवारी ने बताई अरविंद केजरीवाल के धरने पर बैठने की असली वजह...

दिल्ली भाजपा के प्रमुख मनोज तिवारी ने कहा कि चार राज्यों के मुख्यमंत्रियों का आम आदमी पार्टी के संयोजक के 'ड्रामे' में शामिल होना 'दुर्भाग्यपूर्ण' है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली BJP प्रमुख मनोज तिवारी ने बताई अरविंद केजरीवाल के धरने पर बैठने की असली वजह...

दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. केजरीवाल का धरना भाजपा विरोधी दलों को एक करने की कोशिश
  2. 4 राज्यों के CM का केजरीवाल के 'ड्रामे' में शामिल होना 'दुर्भाग्यपूर्ण'
  3. पिछले सात दिनों से LG हाउस में धरने पर बैठे हैं केजरीवाल
नई दिल्ली: दिल्ली भाजपा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर 2019 के आम चुनाव से पहले 'भाजपा विरोधी, नरेंद्र मोदी विरोधी' मोर्चा के गठन की कोशिश के तहत 'राजनीतिक स्टंट' का सहारा लेने का आरोप लगाया. दिल्ली भाजपा के प्रमुख मनोज तिवारी ने कहा कि चार राज्यों के मुख्यमंत्रियों का आम आदमी पार्टी के संयोजक के 'ड्रामे' में शामिल होना 'दुर्भाग्यपूर्ण' है.

यह भी पढ़ें : 'आप' के मार्च को मिला विपक्ष का साथ, बीजेपी के 'शत्रु' ने भी दी नौकरशाहों को नसीहत

दिल्ली सचिवालय में मुख्यमंत्री कार्यालय में अनिश्चितकालीन हड़ताल पर बैठे राज्य विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता ने केजरीवाल को 'खुला पत्र' लिखकर 'राजनीतिक हितों' से ऊपर उठकर अपने मंत्रियों के साथ फिर से काम करने का आग्रह किया. गुप्ता ने पत्र में लिखा है, 'आपके पक्ष में चार राज्यों के मुख्यमंत्रियों के (संवाददाता) सम्मेलन से आपके धरने से जुड़े सारे संशय खत्म हो गए हैं कि यह अगले साल के चुनाव से पहले भाजपा विरोधी और मोदी विरोधी मोर्चा तैयार करने का राजनीतिक स्टंट भर है.'

यह भी पढ़ें : IAS अधिकारियों ने लगाया सीएम केजरीवाल पर राजनीति करने का आरोप, कहा- हम स्ट्राइक पर नहीं

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन, कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी और आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने उपराज्यपाल कार्यालय में धरने पर बैठे केजरीवाल और उनके मंत्रिमंडल के सहयोगियों से मिलने की कोशिश की थी, लेकिन उन्हें इजाजत नहीं मिली थी.

VIDEO : हम हड़ताल पर नहीं है: दिल्ली IAS एसोसिएशन


मनोज तिवारी ने ममता पर पहले ईद समारोहों के नाम पर नीति आयोग की बैठक को विलंबित करने और फिर केजरीवाल के 'तमाशा' में शामिल होने का आरोप लगाया. 

टिप्पणियां
सात दिनों से धरने पर बैठे हैं केजरीवाल
अरविंद केजरीवाल पिछले सात दिनों से धरने पर बैठे हैं. उन्होंने कहा था कि, हम तब तक यहां से नहीं जाएंगे, जब तक LG साब IAS अधिकारियों को मेरी सरकार के साथ फिर सहयोग शुरू करने का निर्देश नहीं देते. तीन महीने से वे हमारे द्वारा आहूत की गई बैठकों में आने से इंकार कर रहे हैं, और किसी भी निर्देश का पालन करने से भी. क्या आपने देश के किसी भी हिस्से में IAS अधिकारियों के काम करना छोड़ देने के बारे में सुना है...? 

(इनपुट : भाषा)
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement