LG ने दिल्ली सरकार को बिना बताए किए तीन अफसरों के ट्रांसफर, 'आप' ने कही यह बात...

दिल्ली सरकार और उपराज्यपाल अनिल बैजल के बीच एक बार फिर से शक्तियों को लेकर विवाद गहरा गया है.

LG ने दिल्ली सरकार को बिना बताए किए तीन अफसरों के ट्रांसफर, 'आप' ने कही यह बात...

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और एलजी अनिल बैजल. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • दिल्ली सरकार-LG के बीच फिर हुआ टकराव
  • ताजा विवाद अफसरों के तबादले से जुड़ा हुआ
  • LG ने बिना बताए तीन अफसरों के तबादले किए
नई दिल्ली:

दिल्ली सरकार और उपराज्यपाल अनिल बैजल के बीच एक बार फिर से शक्तियों को लेकर विवाद एक बार फिर गहरा गया है. ताजा विवाद एलजी अनिल बैजल द्वारा तीन आईएएस अफसरों के तबादले के बाद उपजा है. सुप्रीम कोर्ट द्वारा उपराज्यपाल का अधिकार भूमि, पुलिस और सार्वजनिक व्यवस्था तक सीमित करने के फैसले के कुछ दिन बाद यह घटनाक्रम हुआ है.

यह भी पढ़ें : केजरीवाल की एलजी को चिट्ठी- 'सुप्रीम कोर्ट का आदेश पूरा लागू करो, कोई शंका हो तो सुप्रीम कोर्ट जाओ'

नए आदेश के मुताबिक सौम्या गुप्ता की जगह संजय गोयल को शिक्षा विभाग का निदेशक बनाया गया है. इसी तरह दक्षिण दिल्ली नगर निगम के उपायुक्त चंचल यादव को उपराज्यपाल का विशेष सचिव बनाया गया है. वसंतकुमार एन को विशेष आयुक्त (व्यापार और कर) बनाया गया है. उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने फैसले की आलोचना करते हुए कहा कि उपराज्यपाल हुक्म चला रहे हैं.

यह भी पढ़ें : दिल्‍ली में ट्रांसफर-पोस्टिंग पर ठनी, सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लागू करवाने के लिए एलजी से मिलेंगे सीएम केजरीवाल

सिसोदिया ने संवाददाताओं से कहा, 'उपराज्यपाल ने मनमाने तरीके से सेवा विभाग अपने पास रख लिया है और हुक्म चला रहे हैं. शिक्षा निदेशक की नियुक्ति के पहले हमसे मशविरा करना चाहिए था. दिल्ली सरकार अपने बजट का 26 प्रतिशत शिक्षा पर खर्च कर रही है और इस मुद्दे पर हमसे चर्चा तक नहीं की गई.'

VIDEO : ट्रांसफर-पोस्टिंग पर LG-केजरीवाल में टकराव जारी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कल उपराज्यपाल को पत्र लिखकर हैरानी जताते हुए कहा कि वह दिल्ली सरकार और केंद्र के बीच अधिकारों को लेकर रस्साकशी पर आए उच्चतम न्यायालय के हालिया फैसले को चुनिंदा तरीके से कैसे स्वीकार कर सकते हैं.

(इनपुट : भाषा)