जनकपुरी पश्चिम-कालकाजी मंदिर के मेट्रो सेवा शुरू करने की मिली मंजूरी 

अधिकारी ने कहा कि डीएमआरसी से मंजूरी मिलने के बाद इस कॉरिडोर के शुरू होने की सही तारीख की जानकारी दे दी जाएगी.

जनकपुरी पश्चिम-कालकाजी मंदिर के मेट्रो सेवा शुरू करने की मिली मंजूरी 

दिल्ली मेट्रो की फाइल फोटो

नई दिल्ली:

जनकपुरी पश्चिम और कालकाजी मंदिर के बीच बनी मेट्रो लाइन को शुरू करने की मंजूरी मिल गई है. मंजूरी मिलने के बाद इस रूट पर जल्द ही मेट्रो की सेवाएं शुरू हो जाएंगी. दिल्ली मेट्रो रेल निगम के एक अधिकारी ने कहा कि मेट्रो रेल सुरक्षा आयुक्त ने जनकपुरी पश्चिम - कालकाजी मंदिर पर यात्री सेवाएं शुरू करने की अनिवार्य मंजूरी दे दी जो कुछ नियम एवं शर्तें पूरी करने से जुड़़ी थी. मेजेंटा लाइन के इस खंड में 16 स्टेशन हैं जिनमें दो इंटरचेंज - हौजखास ( यलो लाइन के साथ ) एवं जनकपुरी पश्चिम ( ब्लू लाइन के साथ ) स्टेशन शामिल हैं.

यह भी पढ़ें: आज से महंगी हो गई दिल्ली मेट्रो स्टेशनों पर पार्किंग, जानिये नई दरें

पूरे मेजेंटा लाइन में कुल 25 स्टेशन हैं लेकिन इस समय कालकाजी मंदिर और बोटैनिकल गार्डन ( नोएडा ) के बीच ही मेट्रो सेवा दी जा रही है. नए खंड में सेवा शुरू होने पर बोटैनिकल गार्डन और जनकपुरी पश्चिम के बीच सीधा सफर शुरू हो जाएगा. मेजेंटा लाइन से पश्चिमी एवं दक्षिणी दिल्ली और गुरूग्राम, फरीदाबाद एवं नोएडा के बीच सफर का समय कम हो जाएगा.

Newsbeep

यह भी पढ़ें: PM मोदी ने व्यस्त समय के दौरान पकड़ी मेट्रो, आश्चर्यचकित यात्री खींचने लगे सेल्फी

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


मसलन हौजखास एवं जनकपुरी पश्चिम के बीच सफर के लिए इस समय राजीव चौक मेट्रो स्टेशन पर ट्रेन बदलने की जरूरत पड़ती है और सफर में करीब 55 मिनट का समय लगता है. लेकिन मेजेंटा लाइन के इस खंड पर सेवाएं शुरू होने के बाद सफर में 30 मिनट से भी कम समय लगेगा. अधिकारी ने कहा कि डीएमआरसी से मंजूरी मिलने के बाद इस कॉरिडोर के शुरू होने की सही तारीख की जानकारी दे दी जाएगी. (इनपुट भाषा से)