NDTV Khabar

ग्रेटर नोएडा में मां-बेटी की हत्या, 15 साल का बेटा लापता

ग्रेटर नोएडा वेस्ट के गौर सिटी के एक फ्लैट में एक महिला और उसकी बच्ची का शव मिला है. पुलिस के मुताबिक, महिला के रिश्तेदार उन्हें बार-बार फोन लगा रहे थे लेकिन फोन नहीं उठ रहा था. फिर महिला के रिश्तेदार फ्लैट पर गए वहां बाहर से ताला लगा हुआ था, जिसके बाद पुलिस को फोन किया गया.

78 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
ग्रेटर नोएडा में मां-बेटी की हत्या, 15 साल का बेटा लापता

ग्रेटर नोएडा वेस्ट के गौर सिटी के एक फ्लैट मां-बेटी का शव मिला है.

खास बातें

  1. पुलिस ने फ्लैट का ताला तोड़ा तो उन्हें महिला और उसकी बच्ची का शव मिला
  2. मां-बेटी की लाश के पास एक बैट पड़ा मिला जिस पर खून के निशान है
  3. महिला के 15 साल के बेटे का अभी तक पता नहीं चल सका है
ग्रेटर नोएडा : ग्रेटर नोएडा वेस्ट के गौर सिटी के एक फ्लैट में एक महिला और उसकी बच्ची का शव मिला है. पुलिस के मुताबिक, महिला के रिश्तेदार उन्हें बार-बार फोन लगा रहे थे लेकिन फोन नहीं उठ रहा था. फिर महिला के रिश्तेदार फ्लैट पर गए वहां बाहर से ताला लगा हुआ था, जिसके बाद पुलिस को फोन किया गया. पुलिस ने फ्लैट का ताला तोड़ा तो उन्हें महिला और उसकी बच्ची का शव मिला. 

दिल्‍ली : शख्‍स ने गला घोंट कर ले ली पत्‍नी की जान, बगल में ही सो रहे थे बच्‍चे

पुलिस के मुताबिक मां-बेटी की लाश के पास एक बैट पड़ा मिला जिस पर खून के निशान है और धारदार हथियार भी मिला है. वहीं महिला के 15 साल के बेटे का अभी तक पता नहीं चल सका है जो घटना के बाद से गायब है. नोएडा पुलिस ने नाबिलग बच्चे की तलाश में पांच टीमों को लगा रखा है, इसके अलावा नोएडा की पुलिस सोशल मीडिया के जरिए भी बच्चे की तलाश में जुटी हुई है, एसएसपी नोएडा लव कुमार का कहना है कि फिलहाल उनकी प्राथमिकता ये है कि बच्चा सही सलामत मिल जाए. मां और बेटी के कत्ल में पुलिस की अब तक की जांच में नाबालिग बच्चा ही मुख्य संदिग्ध नजर आ रहा है, इसके पीछे पुलिस को कई वजहें नजर आ रही है, कत्ल के लिए जो हथियार इस्तेमाल किया गया वो घर के अंदर के - लकड़ी का बैट और कैंची हैं. घर में लूटपाट नहीं हुई है, घर में किसी बाहरी शख्स के आने के अब तक कोई सबूत नहीं मिले हैं. 

लेकिन पुलिस को अब तक मोटिव नहीं समझ आया है, अगर बच्चे ने ही अपनी मां और बहन का कत्ल किया तो उसके पीछे क्या वजह हो सकती है, पूछताछ में बच्चे के पिता ने पुलिस को ये बताया कि उसकी छोटी बहन मणिकणिका ने अभी कुछ दिन पहले ही अपने भाई की शिकायत की थी कि वो मोबाइल पर बात बहुत करता है और गेम बहुत खेलता है, इसके बाद पिता ने अपने बेटे को ना सिर्फ खूब डांटा बल्कि उसके फोन के इस्तेमाल पर भी काफी हद तक रोक लगा दी थी, लेकिन क्या सिर्फ इतनी सी बात पर कोई अपनी बहन और मां का कत्ल कर सकता है. बच्चा 'गैंगस्टर इन हाइस्कूल' के नाम का एक गेम खेलता था, लेकिन पुलिस का कहना है ये गेम उतना खतरनाक नहीं है कि खेलने वाला किसी का कत्ल कर दे, इस गेम को खेलने वाले बच्चे स्कूल में टीचर के साथ छुप कर बदमाशी करते हैं, जैसे कभी उस पर कागज का गोला फेंक दिया तो कभी इंक. साथ ही पुलिस इस घटना का ब्लू ब्हेल गेम खेलने के एंगल से भी जांच कर रही है लेकिन अब तक ब्लू ब्हेल गेम के कोई सबूत नही मिले हैं. इन सारे सवालों के जवाब अब तक पुलिस को नहीं मिले हैं और पुलिस का कहना है कि जब तक वो बच्चा उन्हें नहीं मिल जाता तब तक इन सवालों के जवाब भी नहीं मिल पाएंगे.


VIDEO: प्रद्युम्‍न हत्याकांड मामले में बस कंडक्टर अशोक को मिली जमानत 


पुलिस ने बताया कि ग्रेटर नॉएडा वेस्ट के गौर सिटी 2 के 11 एवेन्यू के फ्लैट नंबर 1446 में 35 वर्षीय अंजलि अग्रवाल और 12 वर्षीय कनिका का शव मिला है. वहीं बेटे का कुछ पता नहीं है. गौतम बुद्ध नगर के एसएसपी लव कुमार ने बताया कि जब पुलिस मौके पर पहुंची तो दरवाजे पर ताला लगा हुआ था. ताला तोड़कर जब अंदर गए तो महिला और उसकी बेटी का शव मिला. पुलिस का कहना है कि प्रारंभिक जांच में लगता है कि किसी छोटे हथियार से मारा गया है. लूट के कोई संकेत नजर नहीं आ रहे हैं. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement