होली के समय डीयू की छात्राओं पर गुब्बारे में सीमन फेंकने के मामले में नया खुलासा

पुलिस को जांच रिपोर्ट मिली है जिसमे साफ हुआ है कि कपड़ों पर मिले दाग़ या निशान सीमन के नही हैं.

होली के समय डीयू की छात्राओं पर गुब्बारे में सीमन फेंकने के मामले में नया खुलासा

प्रतीकात्मक तस्वीर.

नई दिल्ली:

28 फरवरी को डीयू की दो छात्राओं ने आरोप लगाया था कि अज्ञात लोगों ने उसके ऊपर वीर्य से भरा गुब्बारा फेंका. लड़की ने ऐसा दावा सोशल मीडिया पोस्ट में किया था जब ये मामला पुलिस संज्ञान में आया तो पुलिस ने एफआईआर करके लड़कियों के कपड़ों और कथित कैमिकल के सैंपल लैब में जांच के लिए भेजे थे. अब पुलिस को जांच रिपोर्ट मिली है जिसमे साफ हुआ है कि कपड़ों पर मिले दाग़ या निशान सीमन के नही हैं.

यह भी पढ़ें : होली पर उत्पीड़न रोकने के लिए छात्राओं का दिल्ली पुलिस हेडक्वार्टर पर प्रदर्शन

दरअसल पूर्वोत्तर की रहने वाली लड़कियों ने 24 फरवरी को अपने इंस्टाग्राम पोस्ट में कहा, 'मैं अमर कॉलोनी मार्केट में अपने एक मित्र के साथ एक कैफे में दोपहर भोज के लिए गई थी. जब मैं रिक्शे में बैठकर वापस आ रही थी तो कुछ लोग आए और मेरी तरफ तरल पदार्थ से भरा गुब्बारा फेंक दिया जो मेरे कूल्हे से टकराया और यह फट गया तथा इसमें भरी चीज के अंश मेरी ड्रेस पर फैल गए.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com