Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

EDMC कमिश्नर को हटाने के लिए आज लाया जाएगा अविश्वास प्रस्ताव, AAP ने BJP पर लगाया यह आरोप

EDMC के कमिश्नर डॉ. रणबीर सिंह को हटाने के लिए सोमवार को पूर्वी दिल्ली नगर निगम की विशेष बैठक बुलाई गई है. बैठक में नगर निगम कमिश्नर को हटाने के लिए अविश्वास प्रस्ताव लाया जाएगा.

EDMC कमिश्नर को हटाने के लिए आज लाया जाएगा अविश्वास प्रस्ताव, AAP ने BJP पर लगाया यह आरोप

आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाया कि मनोज तिवारी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के आरोप में यह कदम उठाया जा रहा है.

नई दिल्ली:

पूर्वी दिल्ली नगर निगम यानी EDMC के कमिश्नर डॉ. रणबीर सिंह को हटाने के लिए सोमवार को पूर्वी दिल्ली नगर निगम की विशेष बैठक बुलाई गई है. बैठक में नगर निगम कमिश्नर को हटाने के लिए अविश्वास प्रस्ताव लाया जाएगा. अविश्वास प्रस्ताव पास होने के बाद उपराज्यपाल अनिल बैजल के पास जाएगा और अनिल बैजल उसको गृह मंत्रालय के पास भेजेंगे.

यह भी पढ़ें : सीलिंग तोड़ने पर BJP सांसद को सुप्रीम कोर्ट ने लगाई फटकार, कहा- आपको हम सीलिंग अफसर बना देंगे

सत्ताधारी बीजेपी सूत्रों के मुताबिक पूर्वी दिल्ली नगर निगम में सफाई कर्मचारियों की हड़ताल चल रही है. हड़ताल तुड़वाने के लिए निगम ने फैसला किया कि पांच हज़ार सफाई कर्मचारियों को पक्का किया जाएगा, लेकिन कमिश्नर ने इस फैसले को मानने से मना कर दिया. क्योंकि उनके मुताबिक निगम की हालत पहले ही खराब है और जो मौजूदा कर्मचारी हैं उनको ही तनख्वाह नहीं दे पा रहे हैं, तो ऐसे में नए कर्मचारियों को पक्का करने के लिए पैसा कहां से लाया जाएगा? 
 

lbg3tflg
पूर्वी दिल्ली नगर निगम के कमिश्नर डॉ. रणबीर सिंह.

कमिश्नर के बात ना मानने से मेयर समेत दूसरे बीजेपी नेता नाराज़ हो गए, जिसके बाद कमिश्नर को हटाने के लिए अविश्वास प्रस्ताव लाया जा रहा है. लेकिन मुख्य विपक्षी पार्टी आम आदमी पार्टी का आरोप है कि कमिश्नर को सफाई कर्मचारियों के मामले में नहीं बल्कि 2 हफ्ते पहले जो दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने उत्तर पूर्वी दिल्ली में एक मकान की सीलिंग तोड़ी थी, जिसमें कमिश्नर ने उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज करवाई थी उस मामले की नाराजगी के चलते बीजेपी कमिश्नर को हटवाने के लिए नाटक कर रही है. वहीं, केंद्र में बीजेपी की सरकार है एलजी बीजेपी के हैं वह जब चाहे केवल एक आदेश के जरिए कमिश्नर को हटवा सकते हैं.

VIDEO : सुप्रीम कोर्ट ने मनोज तिवारी को लगाई फटकार

दिल्ली म्युनिसिपल कॉरपोरेशन एक्ट के मुताबिक कमिश्नर को हटाने के लिए 60% सदस्यों का बहुमत चाहिए होगा जो बीजेपी के पास है.