NDTV Khabar

दिल्ली में फैमिली को चोर बताकर लगाए गए पोस्टर, परिवार के एक शख्स ने की खुदकुशी

दिल्ली के करावल नगर इलाके में एक 30 साल के शख्स ने इसलिए आत्महत्या कर ली क्योंकि कुछ लोगों ने पूरे इलाके में उसके, उसके भाई और उसके पिता के पोस्टर लगा दिए थे जिसमें लिखा था ये चोर हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली में फैमिली को चोर बताकर लगाए गए पोस्टर, परिवार के एक शख्स ने की खुदकुशी

मृतक यशबीर भाटी

खास बातें

  1. युवक ने खुदकशी ने पहले बनाया वीडियो
  2. 3 लोगों पर लगाया प्रताड़ित करने का आरोप
  3. अब तक कोई गिरफ्तार नहीं
नई दिल्ली:

दिल्ली के करावल नगर इलाके में एक 30 साल के शख्स ने इसलिए आत्महत्या कर ली क्योंकि कुछ लोगों ने पूरे इलाके में उसके, उसके भाई और उसके पिता के पोस्टर लगा दिए थे जिसमें लिखा था ये चोर हैं. पब्लिक का 5 करोड़ रुपये लेकर भागे हैं. इन्हें पकड़ने वालों को 1 लाख 11 हज़ार रुपये का इनाम दिया जाएगा. आत्मग्लानि के कारण शख्स ने घर में आत्महत्या कर ली, लेकिन आत्महत्या करने से पहले उसने एक वीडियो बनाया. पुलिस ने 3 लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज कर लिया है लेकिन अब तक कोई गिरफ्तार नहीं हुआ है. मृतक यशवीर भाटी के भाई अमित भाटी के मुताबिक उनका गाड़ियों का खरीद फरोख्त का काम था. उनका इलाके के ही तुषार बंसल और उसके पिता पुष्पेंद्र बंसल से लेनदेन को लेकर विवाद चल रहा था. वो लोग अक्सर धमकाते थे. कुछ दिन पहले हम लोगों ने पुष्पेंद्र बंसल को एक प्लॉट भी दे दिया और लोगों ने बैठकर हमारा समझौता भी करा दिया. लेकिन उसके बाद भी बंसल परिवार हमें परेशान करता रहा. 

दिल्ली के नारायणा स्थित बिल्डिंग में लगी आग, दो दर्जन गाड़ियों ने आग पर पाया काबू


फिर इसमें इलाके एक दबंग कपिल नगर भी शामिल हो गया. हाल ही में इन लोगों पूरे इलाके में पोस्टर लगा दिए. इन पोस्टरों में अमित भाटी, उसके भाई यशवीर भाटी की फोटो लगी थीं. ऊपर लिखा था ये लोग 5 करोड़ रुपये लेकर भागे हैं. इन्हें या इनके पिता की पहचान या पता बताने वालों को 1 लाख 11 हज़ार रुपये का इनाम दिया जाएगा. अमित भाटी पर 50 हज़ार का इनाम रखा गया, उसके भाई यशवीर भाटी पर 11 हजार और पिता पर 50 हज़ार का. पोस्टर में सबसे नीचे लिखा था ये तीनों चोर हैं. नीचे लिखे कुछ नंबरों पर सम्पर्क करने को कहा गया था. अमित के मुताबिक इन्हीं पोस्टरों के चलते पूरा परिवार डिप्रेशन में आ गया. हमारा घर से निकलना निकलना मुश्किल हो गया. यशवीर को इतनी आत्मग्लानि हुई कि उसने 31 जनवरी को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. लेकिन उसने आत्महत्या करने के एक वीडियो बनाया जिसमें उसने कहा कि, 

दिल्ली : करोल बाग के अर्पित पैलेस होटल के मालिक की तलाश में जुटी पुलिस

"हेलो सभी भाइयों को नमस्कार, मेरा नाम यशवीर भाटी है. मैं ज़िंदगी से बहुत परेशान आ चुका हूं. बहुत परेशान... मेरा समाज में निकलना बैठना सब बंद हो गया है. तुषार बंसल की वजह से जिसने मेरे पोस्टर लगाए. मैं आज उसकी वजह से मर रहा हूं. फांसी लगाकर मरूंगा, उसने बहुत टॉर्चर किया, मैंने एसएचओ एसीपी, डीसीपी, जॉइंट सीपी, कमिश्नर, मुख्यमंत्री,राष्ट्रपति सब जगह एप्लिकेशन लगाई है लेकिन मेरी कोई सुनवाई नहीं हो रही. प्लीज़ प्लीज़ मैं आपसे दुआ करता हूं, मेरी फैमिली को सपोर्ट कर दो. मैं मर जाऊंगा, मेरे सारे फैमिली मेंबर, भाई, बहन, ताऊ, चाचा, प्लीज़ बात समझो. इतना बुरा हुआ है कि मैं पूरी दिल्ली में जाऊं, यूपी में जाऊं, कहीं भी जाऊं, ये हर जगह टॉर्चर करते हैं. परेशान करते हैं उसका पापा भी, मेरे पास पोस्टर भी हैं. सब जगह हैं सब कुछ है.वीडियो में कहा गया कि मेरी फैमिली को सुरक्षा मिले, बस" 

टिप्पणियां

रंग लाएगी महागठबंधन की कवायद? दिल्ली में शरद पवार के घर विपक्षी दलों की बैठक, राहुल, ममता और केजरीवाल भी शामिल

इस मामले में उत्तरी पूर्वी दिल्ली के खजूरी खास थाने में तुषार बंसल, उसके पिता पुष्पेंद्र बंसल और कपिल नगर के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कर लिया गया है. हालांकि अब तक कोई भी आरोपी गिरफ्तार नहीं हो सका है. पुलिस ने एक सीसीटीवी भी बरामद किया है जिसमें एक नकाबपोश शख्स रात के अंधेरे में पोस्टर लगाता हुआ दिख रहा है. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement