NDTV Khabar

दुनिया के चुनिंदा सम्मेलन और प्रदर्शनी केंद्रों में से एक होगा दिल्ली में, आज शिलान्यास

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को वैश्विक स्तर के भारतीय अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन और प्रदर्शनी केंद्र की रखेंगे आधारशिला

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दुनिया के चुनिंदा सम्मेलन और प्रदर्शनी केंद्रों में से एक होगा दिल्ली में, आज शिलान्यास

पीएम नरेंद्र मोदी गुरुवार को दिल्ली में भारतीय अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन और प्रदर्शनी केंद्र (आईआईसीसी) का शिलान्यास करेंगे.

खास बातें

  1. केंद्र में बनने वाला प्रदर्शनी स्थल विश्व में सबस बड़ा होगा
  2. केंद्र में कार्यक्रम, बैठकें, सम्मेलन और प्रदर्शनियां आयोजित की जा सकेंगी
  3. पांच लाख से अधिक रोजगार के अवसर सृजित होंगे
नई दिल्ली:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को दिल्ली में भारतीय अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन और प्रदर्शनी केंद्र (आईआईसीसी) की आधारशिला रखेंगे. आकार और गुणवत्ता के हिसाब से यह केन्द्र विश्व के बेहतरीन केंद्रों में से एक होगा. इसमें अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय कार्यक्रमों, बैठकों, सम्मेलनों, प्रदर्शनी और व्यापार प्रदर्शनी आयोजित की जा सकेंगी.

वाणिज्य मंत्रालय ने एक बयान में यह जानकारी दी है. मंत्रालय के अनुसार, ‘‘यह दुनिया के शीर्ष 10 केंद्रों में शामिल होगा और इसके अंदर बना प्रदर्शनी स्थल विश्व में सबस बड़ा होगा.’’ परियोजना से पांच लाख से अधिक रोजगार के अवसर सृजित होंगे.

यह भी पढ़ें : दिल्ली की सबसे ऊंची इमारत होगी अटल जी के नाम, निर्माण पर 200 करोड़ खर्च करेगा SDMC


परियोजना का निर्माण राष्ट्रीय राजधानी द्वारका में सेक्टर 25 में 221.37 एकड़ में होगा. इस पर 25,703 करोड़ रुपये की लागत आने का अनुमान है. केंद्र का निर्माण हरित इमारत सिद्धांतों और भारतीय हरित इमारत परिषद (आईजीबीसी) प्लैटिनम रेटिंग मानकों के अनुसार होगा. इस सम्मेलन केंद्र में 11,000 लोगों के बैठने की व्यवस्था और पांच प्रदर्शनी केंद्र होंगे. इसका विकास दो चरणों में होगा. पहला और दूसरा चरण क्रमश: दिसंबर 2019 और दिसंबर 2024 तक पूरा होगा.

टिप्पणियां

VIDEO : प्रगति मैदान का नया स्वरूप

आईआईसीसी परिसर में भूमिगत मेट्रो स्टेशन होगा. साथ उच्च गति वाले एयरपोर्ट मेट्रो गलियारा का विस्तार होगा. इसका निर्माण दिल्ली मेट्रो रेल कारपोरेशन करेगी. परियोजना का क्रियान्वयन भारत अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन एवं प्रदर्शनी केंद्र लिमिटेड करेगी. इस कंपनी का गठन औद्योगिक नीति एवं संवर्द्धन विभाग ने किया है.
( इनपुट भाषा से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement