NDTV Khabar

जहरीली हवा का साइड इफेक्ट : दिल्ली में चार गुना बढ़ा पार्किंग शुल्क, अॉड-ईवन पर भी विचार

पार्किंग शुल्क बढ़ाने का फैसला इसलिए किया गया है क्योंकि, लोग प्राइवेट वाहनों का कम से कम इस्तेमाल करें.

109 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जहरीली हवा का साइड इफेक्ट : दिल्ली में चार गुना बढ़ा पार्किंग शुल्क, अॉड-ईवन पर भी विचार

दिल्ली के लोग एक बार फिर प्रदूषण की चपेट में हैं.

नई दिल्ली: प्रदूषण का सामना कर रहे दिल्ली के लोगों को अब चार गुणा पार्किंग शुल्क देना होगा. सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त एनवायरमेंट एंड पॉल्युशन प्रिवेंशन एंड कंट्रोल अथॉरिटी की बैठक में यह फैसला लिया गया है. यह फैसला इसलिए लिया गया है क्योंकि, लोग प्राइवेट वाहनों का कम से कम इस्तेमाल करें.

यह भी पढ़ें : खतरनाक स्मॉग हुआ शुरू, इन तरीकों से रखें अपने परिवार का खास खयाल

दिवाली के बाद दिल्ली में बढ़ा प्रदूषण का स्तर
पिछले साल की तरह इस साल भी राजधानी धुंध और प्रदूषण की समस्या से जूझ रहा है. दिवाली के बाद से दिल्ली के प्रदूषण स्तर में भारी बढ़ोत्तरी हुई. इसके अलावा ग्रीन पैनल ने यह भी सिफारिश की है कि ऑफ पीक आवर में मेट्रो का किराया कम किया जाए और सड़कों पर कारों की संख्या में कमी लाने के लिए ऑड-ईवेन की योजना वापस लाई जाए.

यह भी पढ़ें : ख़राब हवा मगर बिजनेस चोखा- तीन सौ से लेकर सवा लाख तक के हैं एयर प्यूरिफ़ायर

सीएम केजरीवाल ने स्कूल बंद करने को कहा
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया से स्कूलों को कुछ दिन तक बंद रखने को कहा है. केजरीवाल ने ट्वीट किया, 'दिल्ली गैस चैंबर बन गई है. हर साल इस अवधि में ऐसा ही होता है. हमें पड़ोसी राज्यों में फसलों की पराली जलाने के मुद्दे का समाधान निकालना होगा.'

यह भी पढ़ें : दिल्ली में स्ट्रगल, नौकरी, कामयाबी लेकिन चैन कहां. प्रदूषण का डर

उन्होंने ट्विटर पर बताया, 'प्रदूषण के बढ़े हुए स्तर को देखते हुए, मैंने शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया से स्कूलों को कुछ दिन तक बंद रखने पर विचार करने का आग्रह किया है.' सिसोदिया के मुताबिक केजरीवाल ने इन चिंताजनक हालात पर बातचीत करने के लिए केंद्रीय पर्यावरण मंत्री हर्षवर्धन से भी मिलने का समय मांगा है.

टिप्पणियां
VIDEO : प्रदूषण और नमी से दिल्ली-एनसीआर में कोहरा


पूरा शहर में धुंध की चादर की चपेट में 
दिल्ली में आज सुबह हवा की गुणवत्ता बहुत खराब स्तर पर थी और पूरे शहर में धुंध की चादर छाई हुई थी. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) ने आज सुबह 10 बजे तक वायु गुणवत्ता की स्थिति 'बेहद गंभीर' दर्ज की है. इसका अभिप्राय है कि प्रदूषण बहुत ज्यादा बढ़ गया है. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement