NDTV Khabar

पवनहंस ने दिल्ली में कृत्रिम छिड़काव करने की सहमति दी

इसकी पूरी कार्य योजना बनाने के लिए दोडिया ने दिल्ली सरकार और पवनहंस के अधिकारियों का संयुक्त कार्यदल बनाने की बात कही है.

4 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
पवनहंस ने दिल्ली में कृत्रिम छिड़काव करने की सहमति दी

(प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली: दिल्ली में प्रदूषण जनित धुंध से निजात पाने के लिए हेलीकॉप्टर से कृत्रिम बारिश करने के केजरीवाल सरकार के प्रस्ताव पर हेलीकॉप्टर सेवा मुहैया कराने वाली कंपनी पवनहंस ने सहमित दे दी है. केजरीवाल सरकार को कृत्रिम छिड़काव के लिये हेलीकॉप्टर मुहैया कराने में कोई मदद करने में केन्द्रीय पर्यावरण मंत्रालय द्वारा असमर्थता जताने के बाद दिल्ली सरकार ने अपने स्तर पर पवन हंस से संपर्क किया था. कंपनी की ओर से सरकार को शुक्रवार को भेजे जवाबी पत्र में इस काम को अंजाम देने पर सहमति जताई गई है.

पवनहंस के महाप्रबंधक वी एच दोडिया ने दिल्ली के पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन के निजी सचिव श्रवण बगड़िया को भेजे पत्र में कहा है कि दिल्ली में हेलीकॉटर द्वारा कृत्रिम बारिश के लिए विस्तृत कार्ययोजना बनानी होगी. साथ ही इस काम के लिए विमानपत्तन प्राधिकरण, नागरिक उड्ययन महानिदेशालय और रक्षा मंत्रालय सहित केन्द्र और राज्य सरकार की तमाम एजेंसियों से पूर्व अनुमित लेनी होगी. इसकी पूरी कार्य योजना बनाने के लिए दोडिया ने दिल्ली सरकार और पवनहंस के अधिकारियों का संयुक्त कार्यदल बनाने की बात कही है. दिल्ली सरकार के सूत्रों ने बताया कि इस बाबत संयुक्त कार्यदल गठित कर दिया गया है जो इस परियोजना पर शनिवार से काम शुरु कर देगा. उल्लेखनीय है कि दिल्ली में प्रदूषण के गहराए संकट से निजात दिलाने के लिए केन्द्रीय पर्यावरण एवं वन मंत्रालय द्वारा गठित समिति ने गुरुवार को अपनी पहली बैठक में ही कृत्रिम बारिश कराने की केजरीवाल सरकार की पहल पर कोई मदद नहीं किये जा सकने की बात कही थी.

यह भी पढ़ें : दिल्ली में 'जानलेवा' प्रदूषण के पीछे पश्चिम एशिया में आई धूल भरी आंधी भी एक वजह : सफर रिपोर्ट

हुसैन ने हाल ही में डा. हर्षवर्धन को पत्र लिखकर कृत्रिम बारिश कराने के लिए केन्द्र सरकार से हेलीकॉप्टर मुहैया कराने में मदद करने का आह्वान किया था. दिल्ली सरकार ने इस काम पर खर्च होने वाली राशि का वहन राज्य सरकार द्वारा करने की पहल करते हुए केन्द्र सरकार से रक्षा मंत्रालय या उड्डयन मंत्रालय से हेलीकॉप्टर मुहैया कराने में मदद की अपील की थी. समझा जाता है कि केन्द्रीय समिति ने दिल्ली सरकार की इस कवायद में पयावरण मंत्रालय द्वारा कोई मदद कर पाने में असमर्थता जताते हुए कहा है कि राज्य सरकार यदि चाहे तो अपने स्तर पर यह काम कर सकती है.

VIDEO :  ऑड ईवन पर NGT की तलवार​
इसके बाद ही दिल्ली सरकार ने पवन हंस से इस बाबत गुरुवार को ही संपर्क किया था. हुसैन ने शुक्रवारो को शाम ट्वीट कर बताया कि कृत्रिम बारिश कराने के लिये पवनहंस से संपर्क किया गया है जिससे दिल्ली में पानी का छिड़काव कर हवा में जमा पार्टिकुलेट तत्वों को जमीन पर लाया जा सके.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement