NDTV Khabar

पत्नी और दो बच्चों की धारदार हथियार से किया मर्डर, फिर पंखे से लटककर जान दी- जानें पूरा मामला

हैदराबाद स्थित एक फार्मा कंपनी के एक वरिष्ठ कर्मचारी ने यहां उप्पल साउथएंड स्थित अपने घर में अपनी पत्नी और दो बच्चों की कथित तौर पर धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या करने के बाद आत्महत्या कर ली. पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पत्नी और दो बच्चों की धारदार हथियार से किया मर्डर, फिर पंखे से लटककर जान दी- जानें पूरा मामला

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

हैदराबाद स्थित एक फार्मा कंपनी के एक वरिष्ठ कर्मचारी ने यहां उप्पल साउथएंड स्थित अपने घर में अपनी पत्नी और दो बच्चों की कथित तौर पर धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या करने के बाद आत्महत्या कर ली. पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि घटना रविवार रात को हुई. 55 वर्षीय पीएचडी धारक प्रकाश सिंह अपने घर पर छत के पंखे से लटका मिला. घटनास्थल से एक सुसाइड नोट मिला जिसमें लिखा था, ‘‘वह अपने परिवार को संभालने में सक्षम नहीं है और वह अपनी पत्नी, बेटे और बेटी की मौत के लिए जिम्मेदार है.''

...जब लोकसभा में मंत्री ने विपक्षी सांसद को दिया बोलने का मौका तो स्पीकर बोले- आज्ञा देने का काम मेरा है, आपका नहीं

गुड़गांव में एक स्कूल चलाने वाली उनकी पत्नी सोनू सिंह (50), बेटी अदिति (22) और बेटा आदित्य (13) मृत पाए गए, जिनके शरीर पर कई जख्म थे. स्थानीय लोगों ने सोमवार को पुलिस को इस मामले की सूचना उस समय दी जब उन्होंने सुबह से परिवार को बाहर निकलते नहीं देखा. सहायक पुलिस आयुक्त (सदर) अमन यादव ने पीटीआई-भाषा को बताया, ‘‘पुलिस नियंत्रण कक्ष को सुबह 9 बजे पड़ोसियों का फोन आया. हमारी टीम उप्पल साउथेंड पहुंची और प्रकाश के घर का मुख्य प्रवेश द्वार अंदर से बंद पाया.''


उन्होंने बताया, ‘‘दरवाजे को बल प्रयोग कर खोला गया. प्रकाश का शव ड्राइंग रूम में छत के पंखे से लटका हुआ मिला, जबकि आदित्य और सोनू के शव फर्श पर पड़े मिले. अदिति का शव एक बिस्तर पर पाया गया. भीतर की दीवारों पर खून के कई निशान थे.'' अधिकारी ने कहा कि घटनास्थल से हमले में इस्तेमाल एक हथौड़ा और चार बड़े चाकू बरामद किए गए. एक अन्य पुलिस अधिकारी ने बताया कि घटना को देखकर ऐसा लगता है कि प्रकाश ने शायद एक अपराध शो से प्रेरित होकर हमले की योजना बनाई थी.

पत्नी ने सब्जी के लिए मांगे 30 रुपए तो पति ने दे दिया तलाक, केस हुआ दर्ज

टिप्पणियां

अधिकारी ने इस घिनौने अपराध का विवरण देते हुए बताया, ‘‘प्रकाश ने पहले अपने परिवार पर हथौड़े से हमला किया और बाद में उन्हें चाकू मार दिया.'' पीड़ितों के रिश्तेदारों ने दावा किया है कि परिवार को कोई वित्तीय परेशानी नहीं थी. परिवार शांति से रह रहा था. पहले कभी कोई झगड़ा या घरेलू हिंसा की खबर नहीं मिली थी. वह हैदराबाद स्थित रासायनिक कारखाना में काम कर रहा था. वह पिछले आठ साल से गुड़गांव में रह रहा था. प्रकाश उत्तर प्रदेश के वाराणसी का रहने वाला था. उन्होंने बताया कि सभी शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.

(इनपुट भाषा से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement