NDTV Khabar

दिल्ली की जहरीली हवा में आज से फिर स्कूल जाएंगे बच्चे   

दिल्ली में रविवार को प्रदूषण का स्तर फिर से खतरनाक हो गया. इसके साथ-साथ हवा की गुणवत्ता भी खराब हो गई है.

3 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली की जहरीली हवा में आज से फिर स्कूल जाएंगे बच्चे   

पांच दिन बंद रहने के बाद आज से फिर खुल रहे हैं दिल्ली के स्कूल.

खास बातें

  1. पांच दिन बंद रहने के बाद आज से फिर खुल रहे स्कूल
  2. रविवार को प्रदूषण का स्तर फिर से खतरनाक हो गया
  3. गुड़गांव प्रशासन ने आज स्कूलों को बंद रखने का निर्देश दिया
नई दिल्ली: दिल्ली में रविवार को प्रदूषण का स्तर फिर से खतरनाक हो गया है. इसके साथ-साथ हवा की गुणवत्ता और खराब हो गई है. विशेषज्ञों के अनुसार यह हवा स्वस्थ लोगों के लिए भी खतरनाक है. इन सबके बीच आज से दिल्ली के सभी स्कूल एक बार फिर खुल गए हैं. बच्चों को जहरीली हवा के बीच ही स्कूल जाना पड़ेगा. 

यह भी पढ़ें : कुवैत से आई धूल, पाकिस्तान से आए कोहरे से दिल्ली को मिली है ज़हरीली धुंध...

दिल्ली सरकार के एक अधिकारी ने बताया, स्कूलों को सोमवार से फिर खोला जाएगा और अवकाश को अब आगे नहीं बढ़ाया जाएगा. गौरतलब है कि पिछले सप्ताह से दिल्ली में घना धुंध और धुंआ छाया हुआ है. इससे लोगों को सांस लेने में तकलीफ हो रही है. इसके बाद दिल्ली सरकार ने यहां के विद्यालयों को बंद करने का आदेश दिया था. पिछले पांच दिन से दिल्ली के स्कूल बंद थे.  

यह भी पढ़ें : प्रदूषण से परेशान 11 साल की बच्‍ची ने पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी और ये कहा

सेंटर कंट्रोल रूम फॉर एयर क्वालिटी मैनेजमेंट के अनुसार रविवार को हवा में पीएम (पार्टिकुलेट मैटर) 2.5 और पीएम10 की सघनता क्रमश: 478 एवं 713 थी. 24 घंटे के लिए इनसे जुड़े सुरक्षित मानक 60 एवं 100 हैं. कई जगहों पर दृश्यता 100 मीटर से कम हो गई. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) ने वायु गुणवत्ता सूचकांक 460 दर्ज किया जो एक दिन पहले 403 था. सबसे ज्यादा मौजूदगी पीएम 2.5 और कार्बन मोनोऑक्साइड की थी.

यह भी पढ़ें : दिल्ली में 'जानलेवा' प्रदूषण के पीछे पश्चिम एशिया में आई धूल भरी आंधी भी एक वजह : सफर रिपोर्ट

केंद्र संचालित सफर (सिस्टम फॉर एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च) की पीएम 2.5 की रीडिंग भी 400 से ज्यादा थी. यह भी गंभीर श्रेणी में आता है. सीपीसीबी और सफर के वैज्ञानिकों ने कहा कि प्रदूषण में ताजा वृद्धि की वजह उत्क्रमण परत (वह परत जिसके बाहर प्रदूषक वातावरण के ऊपरी परत नहीं जा सकते) में गिरावट है जो न्यूनतम एवं अधिकतम तापमान में तेजी से आयी कमी के कारण हुआ.

VIDEO : प्रदूषण से बचाव के लिए बनाया नैजोफिल्टर


गुड़गांव के स्कूल रहेंगे बंद
गुड़गांव जिला प्रशासन ने प्रदूषण की स्थिति को देखते हुए सरकारी और निजी स्कूलों को कल बंद रखने का निर्देश दिया है. जिला मजिस्ट्रेट विनय प्रताप सिंह ने बताया, दिल्ली और एनसीआर में धुंध और प्रदूषण को देखते हुए हमने 13 नवंबर को सभी निजी और सरकारी स्कूलों को बंद रखने का फैसला लिया है. अधिकारी ने बताया कि जिले के स्कूल शुक्रवार और शनिवार को बंद थे. यह आदेश सोमवार तक बढ़ा दिया गया है.  


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement