NDTV Khabar

सिर से जुड़े जुड़वा बच्चों की स्थिति स्थिर: एम्स डॉक्टर

सर्जरी का पहला चरण 28 अगस्त को हुआ था. जुड़वा बच्चों को 13 जुलाई को एम्स में भर्ती कराया गया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सिर से जुड़े जुड़वा बच्चों की स्थिति स्थिर: एम्स डॉक्टर

(फाइल फोटो)

नई दिल्ली: ओड़िशा के जुड़वा बच्चे जगा और कालिया अभी अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के आईसीयू में हैं और उनकी स्थिति स्थिर बताई गई है. एम्स में 26 अक्तूबर को डॉक्टरों की एक टीम ने सिर से जुड़े इन जुड़वा बच्चों को अलग किया था. एम्स में न्यूरोसाइंस सेंटर के प्रमुख डा. एके महापात्रा ने कहा कि कंधमाल जिले के रहने वाले ये जुड़वा बच्चे आईसीयू में है और विशेषज्ञों की एक टीम दिन रात उनकी स्थिति पर नजर रख रही है. डॉक्टर ने बताया कि बच्चों को खून चढ़ाया जा रहा है और उनकी स्थिति स्थिर बनी हुई है.

डॉ.महापात्रा के साथ सर्जरी करने वाले एम्स में न्यूरोसर्जन डॉ. दीपक कुमार गुप्ता ने बताया कि जगा निरंतर हेमोडायलिसिस पर है और उसकी किडनी के काम करने में सुधार हो रहा है. डॉक्टर ने कहा कि कालिया के महत्वपूर्ण मापदंड सामान्य है लेकिन उसे अभी होश नहीं आया है.

यह भी पढ़ें : सिर से जुड़े बच्चों को अलग करने के लिए 16 घंटे तक चली सर्जरी

उन्होंने कहा, ‘वह निगरानी में है.’ एम्स में न्यूरोसर्जरी, न्यूरो एनेसथिसिया और प्लास्टिक सर्जरी विभाग के 30 विशेषज्ञों की एक टीम ने 16 घंटे की मैराथन सर्जरी के बाद दो वर्ष और पांच महीने के जुड़वा बच्चे को अलग किया था.

VIDEO : एम्स में सिर से जुड़े जुड़वां बच्चों को अलग करने की मैराथन सर्जरी​


एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया ने इससे पूर्व कहा था कि जुड़वा बच्चों को अलग कर दिया गया है लेकिन सर्जरी की सफलता का पता लगाने के लिए अगले 18 घंटे महत्वपूर्ण होंगे. सर्जरी का पहला चरण 28 अगस्त को हुआ था. जुड़वा बच्चों को 13 जुलाई को एम्स में भर्ती कराया गया था. डॉ. दीपक गुप्ता ने इससे पूर्व कहा था कि दोनों बच्चों की स्थिति ऐसी थी जो 30 लाख में से एक को होती है. ऐसे बच्चों में से 50 फीसदी पैदा होते ही या जन्म के 24 घंटे के भीतर ही मर जाते हैं.
 

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement