दिल्ली में आधी रात के बाद फिर हुई बारिश, तापमान में गिरावट-हवा में मामूली सुधार

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक गुरुवार देर रात दिल्ली और एनसीआर में बारिश हुई जिसके कारण तेज हवाओं के अलावा तापमान में गिरावट भी दर्ज की गई.

दिल्ली में आधी रात के बाद फिर हुई बारिश, तापमान में गिरावट-हवा में मामूली सुधार

दिल्ली में आधी रात के बाद हुई बारिश

खास बातें

  • दिल्ली एनसीआर में गुरुवार आधी रात के बाद हुई बारिश
  • बारिश की वजह से तापमान में गिरावट
  • 26-27 जनवरी तक इसी तरह मौसम बरकरार रहने की उम्मीद
नई दिल्ली:

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक गुरुवार देर रात दिल्ली और एनसीआर  के इलाकों में बारिश हुई जिसके कारण तेज हवाओं के अलावा तापमान में गिरावट भी दर्ज की गई. माना जा रहा है कि गणतंत्र दिवस तक दिल्ली में इसी तरह का मौसम बरकरार रहेगा.आईएमडी के मुताबिक शुक्रवार को दिल्ली में गरज के साथ बारिश के आसार हैं. न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस तक रह सकता है. मौसम विभाग ने  26 और 27 जनवरी को दिल्ली में कोहरा छाए रहने का अनुमान जताया है.       

मौसम : हिमाचल और कश्मीर में बर्फ की चादर, बारिश से तरबतर दिल्ली में लगा जाम

आईएमडी के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ की वजह से गुरुवार को दिल्ली और आस-पास के इलाकों में बारिश और तेज हवाएं देखने को मिली. गुरुवार दोपहर के बाद से ही आसमान में बादल छाए रहे. दिल्ली एनसीआर के कुछ हिस्सों में आंधी और ओले गिरने की भी जानकारी मिली. स्काईवेदर के मुताबिक दिल्ली की बारिश ने पिछले 10 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया. राजधानी में अब तक 48 मिलीमीटर की बारिश दर्ज की गई. आगामी कुछ दिनों में इसमें बढ़ोतरी देखी जा सकती है. 

बदला नजर आया मौसम का मिजाज: शनिवार रहा सबसे गर्म दिन, 26 जनवरी को बारिश के आसार 

वहीं दिल्ली के कई इलाकों में बारिश के बाद वायु गुणवत्ता में मामूली सुधार दर्ज किया गया. अधिकारियों ने बताया कि बारिश की वजह से प्रदूषणकारी तत्व धुल गए. उन्होंने बताया कि दिन में इससे पहले वायु गुणवत्ता काफी खराब श्रेणी में थी. लेकिन बारिश होने के बाद इसमें सुधार हुआ और कई इलाकों पर यह अब भी खराब श्रेणी में दर्ज की गयी. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड यानी की सीपीसीबी के आंकड़ों के अनुसार शहर में समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 296 रहा. 100 से 200 के बीच एक्यूआई ‘मध्यम' श्रेणी में आता है जबकि 201 से 300 के बीच ‘खराब' श्रेणी में माना जाता है. 301 और 400 के बीच इसे ‘बेहद खराब' माना जाता है जबकि 401 और 500 के बीच यह ‘गंभीर' श्रेणी में आता है. शहर में मंगलवार को भारी बारिश के बाद दिल्ली की वायु गुणवत्ता में काफी सुधार आया और पिछले साल अक्टूबर के बाद पहली बार यह ‘संतोषजनक' श्रेणी में रिकॉर्ड किया गया. 

Video: बर्फ की चादर से ढके पहाड़

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com