NDTV Khabar

दिल्ली-एनसीआर में पटाखों पर प्रतिबंध जारी रखने के लिए दी गई याचिका, SC ने कहा- मामले को देखेंगे

इस पर मुख्य न्यायाधीश ने मामले को संज्ञान में लेने का आश्वासन दिया है. गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली-एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण के चलते 13 अक्टूबर से 31 अक्टूबर तक पटाखों की बिक्री पर रोक लगा दी थी. जिसका विरोध भी अच्छा-खासा हुआ था.

91 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली-एनसीआर में पटाखों पर प्रतिबंध जारी रखने के लिए दी गई याचिका, SC ने कहा- मामले को देखेंगे

सुप्रीम कोर्ट ( फाइल फोटो )

नई दिल्ली: दिल्ली-एनसीआर  में 1 नवंबर से पटाखों की बिक्री पर लगी रोक को हटाने के फैसले के खिलाफ याचिका दी गई है. याचिकर्ता ने रोक को जारी रखने की मांग की है. इस पर मुख्य न्यायाधीश ने मामले को संज्ञान में लेने का आश्वासन दिया है. गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली-एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण के चलते 13 अक्टूबर से 31 अक्टूबर तक पटाखों की बिक्री पर रोक लगा दी थी. जिसका विरोध भी अच्छा-खासा हुआ था.

पटाखों पर प्रतिबंध लगाए जाने के फैसले की सुप्रीम कोर्ट में हुई तारीफ

सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के खिलाफ पटाखा व्यापारियों ने फैसले पर फिर से विचार करनी की गुहार लगाई थी लेकिन अदालत इस पर कायम रही और कहा कि हमें पता है कि दीपावली पटाखा मुक्त नहीं होने वाली, लोग पटाखे जलाएंगे. अगर हम अपने आदेश में बदलाव करते हैं तो यह आदेश की आत्मा के खिलाफ होगा. कोर्ट ने कहा कि हमें पीड़ा है कि कुछ लोग इसे साम्प्रदायिक और राजनीतिक रंग देने की कोशिश कर रहे हैं. जस्टिस सिकरी ने कहा कि सबको पता है कि मैं कितना धार्मिक हूं. कोर्ट ने मामले की सुनवाई के दौरान यह भी कहा कि 11 बजे के बाद पटाखें नहीं चलाए जाएंगे.

वीडियो : दिल्ली-एनसीआर में हालात फिर भी गंभीर

कोर्ट ने कहा था कि लोगों के पास पहले से पटाखे हैं अब वक्त नहीं दिया जा सकता. याचिकाकर्ता चाहें तो दिवाली के बाद संशोधन के लिए आ सकते हैं. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हमने अखबार में पढ़ा है कि अभी भी आदेश के बावजूद पटाखे बिक रहे हैं. सुप्रीम कोर्ट को यह तय करना था कि दिल्ली-एनसीआर में पटाखों की बिक्री पर रोक जारी रहेगी या नहीं. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement