NDTV Khabar

दिल्ली में खतरे के निशान के ऊपर पहुंचा यमुना का जलस्तर, बाढ़ की चेतावनी जारी

दिल्ली में बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है. सरकार ने रविवार को राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के लिए बाढ़ की चेतावनी जारी की है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां

खास बातें

  1. खतरे के निशान के ऊपर पहुंचा यमुना का जलस्तर
  2. दिल्ली सरकार ने बाढ़ की चेतावनी जारी की
  3. निचले इलाकों को कराया जा रहा है खाली
नई दिल्ली:

दिल्ली में बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है. सोमवार को यमुना नदी जलस्तर खतरे के निशान के ऊपर पहुंच गया. सोमवार शाम को यमुना का जलस्तर. 205.34 मीटर तक पहुंच गया है जो खतरे के निशान से ज्यादा है. यमुना में खतरे का निशान 205.33 मीटर है. बता दें कि इससे पहले सरकार ने रविवार को राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के लिए बाढ़ की चेतावनी जारी की थी. इसके साथ-साथ निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को वहां से सुरक्षित स्थान पर जाने के लिए कहा गया है. अधिकारियों ने बताया कि रविवार की शाम युमना नदी में जलस्तर 203.37 मीटर तक पहुंच गया था. बता दें कि रविवार को हरियाणा के हथिनी कुंड बैराज से शाम 6 बजे आठ लाख 28 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया था. इन सबके बीच लोहे का पुल पर यातायात को भी बंद कर दिया गया है.


यह भी पढ़ें: कर्नाटक सहित देश के कई राज्यों में बाढ़ का कहर, जन-जीवन बुरी तरह प्रभावित, 250 से ज्यादा की मौतबता दें कि हथिनी कुंड बैराज से पानी छोड़े जाने और यमुना का जल स्तर बढ़ने से जान माल के नुकसान का खतरा पैदा हो गया है.' अधिकारियों ने बताया कि हरियाणा ने रविवार को थोड़े-थोड़े अंतराल पर पानी छोड़ा. उन्होंने बताया कि रविवार शाम पांच बजे 8 लाख 14 हजार क्यूसेक पानी हथिनी कुंड बैराज से छोड़ा गया था. दिल्ली सरकार ने कहा कि निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को समायोजित करने के लिए आस-पास के इलाकों में टेंट लगाने की तैयारी की जा रही है.

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले में नदी में अचानक आई बाढ़ से 20 मकान और 18 लोग बहे, तलाश जारी 

टिप्पणियां

बाढ़ जैसी स्थिति से निपटने के उपायों पर चर्चा करने के लिए रविवार शाम को अधिकारियों की एक बैठक भी हुई थी. पिछले साल जुलाई में यमुना नदी में जलस्तर खतरे के निशान को पार करने के बाद राष्ट्रीय राजधानी में यमुना के पुराने पुल पर यातायात परिचालन कुछ दिनों के लिए बंद कर दिया गया था. पिछले साल यमुना नदी में जलस्तर 205.5 मीटर तक पहुंच गया था.

(इनपुट: भाषा से भी)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement