दिल्ली BJP अध्यक्ष मनोज तिवारी विधानसभा चुनाव में सीएम पद के उम्मीदवार! हरदीप पुरी ने बयान देने के बाद लिया यू-टर्न

क्या दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी आगामी दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में बीजेपी की तरफ से मुख्यमंत्री उम्मीदवार होंगे? यह सवाल और चर्चा इसलिए शुरू हो गई है क्योंकि खुद बीजेपी नेतृत्व की तरफ से यह बात आई है.

दिल्ली BJP अध्यक्ष मनोज तिवारी विधानसभा चुनाव में सीएम पद के उम्मीदवार! हरदीप पुरी ने बयान देने के बाद लिया यू-टर्न

कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी और दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष व सांसद मनोज तिवारी.

नई दिल्ली:

क्या दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी आगामी दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में बीजेपी की तरफ से मुख्यमंत्री उम्मीदवार होंगे? यह सवाल और चर्चा इसलिए शुरू हो गई है क्योंकि खुद बीजेपी नेतृत्व की तरफ से यह बात आई है. केंद्रीय शहरी विकास मंत्री और दिल्ली चुनाव के लिए बीजेपी के सह प्रभारी हरदीप पुरी ने कहा है कि बीजेपी मनोज तिवारी के नेतृत्व में ही दिल्ली चुनाव लड़ने जा रही है और वही मुख्यमंत्री बनेंगे. हालांकि कुछ घंटे बाद ही हरदीप पुरी ने यू-टर्न ले लिया और ट्वीट करके कहा कि उनके बयान का मतलब था दिल्ली में बीजेपी मनोज तिवारी के नेतृत्व में भारी मतों से जीतेगी.

दरअसल रविवार को  बीजेपी ने दिल्ली में सभी लोकसभा क्षेत्रों में पार्टी के पदाधिकारियों के साथ एक कार्यक्रम का आयोजन किया जिसको नाम दिया गया ' शहरी केंद्र प्रमुख सम्मेलन'. मनोज तिवारी उत्तर पूर्वी दिल्ली से लोकसभा के सांसद हैं इसलिए उनकी लोकसभा में शास्त्री पार्क में यह कार्यक्रम आयोजित किया गया. 

इसी कार्यक्रम में हरदीप पुरी ने कहा 'हमारे लीडर मनोज तिवारी जी के नेतृत्व में हम यह चुनाव लड़ने जा रहे हैं और इनको हम चीफ मिनिस्टर बना कर ही छोड़ेंगे'. हरदीप पुरी के इस ऐलान के बाद सभा में 'जय श्री राम' और 'अब की बारी मनोज तिवारी' जैसे नारे लगे. हालांकि हरदीप पुरी के इस ऐलान पर वहां मौजूद दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कुछ नहीं कहा. लेकिन इससे मनोज तिवारी के नाम की चर्चा शुरू हो गई है. जबकि अभी तक इस बात को लेकर बीजेपी पशोपेश में थी कि दिल्ली विधानसभा चुनाव सीएम उम्मीदवार घोषित करके लड़ा जाए या फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चेहरे पर ही दिल्ली विधानसभा चुनाव जीतने की कोशिश की जाए. आपको बता दें हरदीप पुरी केंद्रीय मंत्री होने के साथ दिल्ली बीजेपी के आगामी विधानसभा चुनाव के लिए सह प्रभारी हैं.

इसके बाद हरदीप पुरी ने अपने बयान पर यू-टर्न ले लिया और एक ट्वीट करके सफाई दी कि 'दिल्ली में भाजपा विजय की ओर अग्रसर है. पार्टी ने अब तक मुख्यमंत्री पद के लिए किसी को नामित नहीं किया है. मनोज तिवारी दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष हैं. पार्टी उनके नेतृत्व में पूरे जोश से काम कर रही है. मेरे बयान का मतलब था कि भाजपा उनके नेतृत्व में भारी मतों से आगामी चुनाव जीतेगी.'

लेकिन आम आदमी पार्टी ने इस मौके को बीजेपी पर घेरने में इस्तेमाल किया. आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने हरदीप पुरी के सफाई वाले ट्वीट पर सवाल करते हुए पूछा ' तो इसका मतलब केजरीवाल जी के खिलाफ आपके पास कोई नहीं? बिना दूल्हे की बारात ? आपका मुख्यमंत्री उम्मीदवार दो घंटे में ही मैदान छोड़कर भाग गया या बीजेपी को उनकी प्रतिभा पर भरोसा नहीं है.'

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्विटर पर मनोज तिवारी को बधाई दी और कहा 'मैं मनोज तिवारी जी को आगामी विधानसभा चुनाव के लिए बीजेपी की ओर से मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने पर बधाई देता हूँ.' मनीष सिसोदिया के इस ट्वीट को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने री-ट्वीट भी किया.

मनोज तिवारी ने कहा, “एक राज्य अध्यक्ष के रूप में मेरा कर्तव्य यह सुनिश्चित करना है कि हम राज्य में सरकार बनाएं. मुद्दा यह नहीं है कि सीएम कौन होगा, यह मुद्दा AAP की बेचैनी पर है. इससे पता चलता है कि वे रात में सो नहीं पाएंगे.”
सीएम का चेहरा होने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि इस तरह के फैसले संसदीय बोर्ड द्वारा लिए जाते हैं.

यहां यह बताना जरूरी है कि साल 2015 में बीजेपी ने किरण बेदी को दिल्ली में अपना मुख्यमंत्री उम्मीदवार घोषित किया था लेकिन पार्टी ने यहां पर अपने इतिहास की सबसे करारी हार झेली.  फिलहाल हरदीप पुरी के ऐलान से यह चर्चा शुरू हुई है और देखना होगा कि क्या दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को टक्कर देने के लिए बीजेपी सीएम उम्मीदवार का ऐलान करेगी?

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com