NDTV Khabar

संसद का शीतकालीन सत्र गुजरात चुनावों के कारण छोटा हो सकता है

इस पर अंतिम निर्णय संसद की कैबिनेट मामलों की समिति (सीसीपीए) करेगी लेकिन सरकार के दो वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि सत्र नवम्बर के अंतिम हफ्ते में बुलाया जा सकता है और यह एक हफ्ते या दस दिनों का हो सकता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
संसद का शीतकालीन सत्र गुजरात चुनावों के कारण छोटा हो सकता है

(फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

संसद का शीतकालीन सत्र इसबार छोटा हो सकता है क्योंकि अधिकतर सांसद गुजरात विधानसभा चुनावों में प्रचार करने में व्यस्त होंगे जो दिसम्बर में दो चरणों में होने जा रहा है. इस पर अंतिम निर्णय संसद की कैबिनेट मामलों की समिति (सीसीपीए) करेगी लेकिन सरकार के दो वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि सत्र नवम्बर के अंतिम हफ्ते में बुलाया जा सकता है और यह एक हफ्ते या दस दिनों का हो सकता है. उन्होंने कहा कि गृह मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में सीसीपीए की बैठक की तारीख को अभी अंतिम रूप नहीं दिया गया है.

गुजरात चुनाव नौ और 14 दिसम्बर को होंगे और वोटों की गिनती 18 दिसम्बर को होगी. हिमाचल प्रदेश में चुनाव नौ नवम्बर को होंगे और वहां भी वोटों की गिनती 18 दिसम्बर को होगी. संसद का शीतकालीन सत्र सामान्य तौर पर मध्य नवम्बर से दिसम्बर के तीसरे हफ्ते तक चलता है.


यह भी पढ़ें : अपनी मांगों लेकर संसद के निकट ‘महाधरना’ देंगे किसान

राज्यसभा में तृणमूल कांग्रेस के नेता डेरेक ओ ब्रायन ने कहा, ‘दो नवम्बर बीत गया. हमें अब भी संसद सत्र की तारीख का पता नहीं है. मुझे उम्मीद है कि संसद सत्र 20 या 21 नवम्बर से शुरू हो सकता है. सरकार तारीखों की घोषणा करने में इतना सावधान क्यों है.’

VIDEO : संसद ठप, सड़क पर शोर​

टिप्पणियां

उन्होंने कहा, ‘वर्ष की शुरुआत में ही संसद का कैलेंडर बनाना अच्छा विचार है. तारीखों की घोषणा से पहले वे खेल क्यों खेल रहे हैं.’ भाकपा के डी राजा ने सरकार द्वारा सत्र को छोटा करने के किसी भी प्रयास की निंदा की. राज्यसभा में भाकपा नेता राजा ने कहा, ‘सरकार ने औपचारिक रूप से हमें कोई जानकारी नहीं दी है. शीत सत्र को छोटा करना सही नहीं है. संसद की बैठक एक वर्ष में कम से कम 100 कार्य दिवसों के लिए नहीं हो रही है. राज्यों में चुनाव हो रहे हैं लेकिन शीत सत्र को छोटा करने का यह कारण नहीं हो सकता है.’

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement