NDTV Khabar

दिल्ली की 2 लेडी 'सिंघम' ने सूझबूझ से बचाई छात्रा की जान, सिरफिरे आशिक को भी पकड़ा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली की 2 लेडी 'सिंघम' ने सूझबूझ से बचाई छात्रा की जान, सिरफिरे आशिक को भी पकड़ा

महिला हेड कांस्टेबल जैसमीन और पूजा

नई दिल्‍ली:

दिल्ली के आदर्श नगर थाने में तैनात दो महिला पुलिसकर्मियों की सूझबूझ से एक बड़ी वारदात होने से टल गई। महिला हेड कांस्टेबल जैसमीन और पूजा दोनों ने गुरुवार को बड़ी ही बहादुरी के साथ सुनील नाम के एक शख्स को पीछा कर धर दबोचा।

सुनील को जिस वक्त इन्होंने पकड़ा उस वक्त उसके पास देसी कट्टा था जिसमें 4 राउंड जिंदा कारतूस थे और दो खाली। सुनील ने इस कट्टे की नोक पर 22 साल की फैशन डिजाइनिंग की छात्रा को उसके क्लास से जबरन अगवा किया और अपने साथ उसे रेलवे ट्रैक की तरफ ले जा रहा था जहां उसका इरादा उसे कत्ल कर खुद भी खुदकुशी करने का था।

टिप्पणियां

कांस्टेबल पूजा और जैसमीन ने जैसे ही उन्हें सूचना मिली कि एक शख्स हथियार की नोक पर छात्रा को जबरन अपने साथ ले जा रहा है, फौरन  सुनील का पीछा किया और उससे देसी कट्टा छीन लिया। सुनील की पॉकेट से इन्हें एक सुसाइड नोट भी मिला जिसमें उसने उस छात्रा की हत्या के लिए खुद को जिम्मेदार ठहराया था।


हालांकि इन दोनों ही महिला कांस्टेबल के फौरन हरकत में आने की वजह से ये वारदात होने से पहले ही रोक ली गई। जबकि पकड़े जाने पर सुनील ने जेब में रखी सल्फास की गोलियां खा लीं। उसे फौरन बाबू जगजीवन राम अस्पताल ले जाया गया जहां उसका ईलाज चल रहा है। पुलिस के मुताबिक सुनील अपने पड़ोस में रहने वाली इस छात्रा से एकतरफा प्यार करता था और पिछले साल उस पर लड़की ने परेशान करने का मामला भी दर्ज कराया था। पुलिस अधिकारी महिला पुलिसकर्मियों की दिलेरी को देखते हुए उन्हें सम्मानित करने की तयारी कर रहे हैं।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement