NDTV Khabar

दिल्ली मेट्रो में जेबकतरों को पकड़ने के लिए सीआईएसएफ ने शुरू किया अभियान

अर्धसैनिक बल के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया, ‘‘पॉकेटमारी की घटनाओं को रोकने के लिए बड़े पैमाने पर एहतियाती अभियान शुरू किया गया है और इस कार्य में कई दलों को लगाया गया है.

3 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्ली मेट्रो में जेबकतरों को पकड़ने के लिए सीआईएसएफ ने शुरू किया अभियान

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

नई दिल्‍ली: दिल्ली मेट्रो में पिछले साल की तुलना में इस वर्ष के पहले पांच महीनों में पकड़े गए जेबकतरों में करीब तीन गुनी वृद्धि के मद्देनजर सीआईएसएफ ने जेबतराशों के खिलाफ विशेष अभियान चलाया है. केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) ने इस साल जनवरी से मई के बीच खुद से या यात्रियों की मदद से 521 कथित जेबतराशों को पकड़ा. इनमें से 90 प्रतिशत कथित पॉकेटमार महिलाएं थीं. अर्धसैनिक बल के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया, ‘‘पॉकेटमारी की घटनाओं को रोकने के लिए बड़े पैमाने पर एहतियाती अभियान शुरू किया गया है और इस कार्य में कई दलों को लगाया गया है. दिल्ली मेट्रो में पॉकेटमारी की घटना हर दिन होती है. इस साल के पहले पांच माह में ही 500 से अधिक लोगों को पकड़ा गया है.’’

अधिकारी ने बताया कि चोरों को चिन्हित करने और इस तरह की घटनाओं पर विराम लगाने के लिए कुछ समय पहले चोरी रोधी दस्ते के जवानों को सादे लिबास में और वर्दी में सभी मार्गों पर तैनात किया गया है. बल ने ऐसी घटनाओं पर रोक लगाने के लिए पॉकेटमारी के शिकार हुए लोगों से औपचारिक शिकायत या पुलिस में प्राथमिकी दर्ज कराने का आग्रह किया है.

टिप्पणियां
अधिकारी ने कहा, ‘‘अधिकतर मामलों में यात्री पुलिस में शिकायत दर्ज नहीं कराना चाहते हैं और संक्षिप्त समय तक हिरासत में रखकर छोड़े जाने के पश्चात जेबतराश मेट्रो में घूमना जारी रखते हैं. इन घटनाओं पर प्रभावी तरीके से रोक लगाने के लिए हम अधिकाधिक लोगों से पुलिस शिकायत दर्ज कराने का आग्रह करते हैं.’’

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement