NDTV Khabar

अपनी पार्टी के ही विधायक सेहरावत के आरोपों पर भड़के 'आप' नेता संजय सिंह

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अपनी पार्टी के ही विधायक सेहरावत के आरोपों पर भड़के 'आप' नेता संजय सिंह

संजय सिंह (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा, मानहानि केस करूंगा, सुबूत मिले तो राजनीति छोड़ दूंगा
  2. सिंह ने मामले को बीजेपी और अकाली दल का षड्यंत्र बताया
  3. पंजाब में चुनावी टिकट के बदले महिलाओं के शोषण का आरोप
नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी विधायक के संगीन आरोपों का जवाब देने  के लिए 24 घंटे बाद खुद संजय सिंह सामने आए. संजय सिंह ने एक बेहद आक्रामक प्रेस कांफ्रेंस करते हुए आप विधायक देविंदर सेहरावत को चुनौती दी और कहा 'अपने निराधार और बेबुनियाद आरोपों के समर्थन में अगर सेहरावत सुबूत पेश कर दें तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा.'

संजय सिंह ने कहा 'आम आदमी पार्टी ने देविंदर सेहरावत को तीन बार 2013, 2014, 2015 में टिकट दिया. वे बताएं कि पार्टी ने उनसे टिकट के बदले क्या लिया? दरअसल यह एक षड्यंत्र है बीजेपी और अकाली दल का, क्योंकि हम पंजाब में 100 से ज्यादा सीटें जीत रहे हैं.'

संजय सिंह से जब पूछा गया कि अगर आपको लगता है कि आपके विधायक ने गलत और निराधार आरोप लगाकर अनुशासनहीनता की है तो आप उन पर कार्रवाई क्यों नहीं करते? तो उन्होंने कहा 'झूठे और निराधार आरोप लगाने के लिए मैं सेहरावत पर मानहानि का मुकदमा करूंगा और रही बात पार्टी की तो अभी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल बाहर हैं. इस पर कोई भी फैसला उनके आने के बाद होगा.'

टिप्पणियां

रविवार को आम आदमी पार्टी के बिजवासन से विधायक देविंदर सेहरावत ने पार्टी नेता अरविंद केजरीवाल को चिट्ठी लिखकर पार्टी के नेताओं पर संगीन आरोप लगाए थे. सेहरावत ने खत में लिखा 'मुझे पंजाब से टिकट के बदले महिलाओं के शोषण की खबरें मिल रही हैं. मैं जमीनी हकीकत जानने के लिए चंडीगढ़ में लोगों से मिल रहा हूं. दिल्ली के विधायकों को नहीं पता कि संजय सिंह और दुर्गेश पाठक पंजाब में क्या कर रहे हैं. दिलीप पांडेय दिल्ली में यही काम कर रहे हैं. हालात बेकाबू हो रहे हैं ऐसे खराब तत्वों को बाहर निकाला जाना चाहिए.'


गौरतलब है कि यह वही देवेंद्र सेहरावत हैं, जिन्होंने आम आदमी पार्टी से प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव को निकाले जाने के तरीके के खिलाफ आवाज उठाई थी. हालांकि सेहरावत ने अरविंद केजरीवाल को लिखे पत्र में कहा है कि उन्हें लोगों को बताना चाहिए कि हमारा अब भी विश्वास है कि हम राजनीति को बदलेंगे.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement