NDTV Khabar

दिल्‍ली में ट्रांसफर-पोस्टिंग पर खींचतान, LG से मुलाकात के बाद आज राजनाथ से मिलने के लिए CM केजरीवाल ने मांगा समय

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद दिल्ली में ट्रांसफर-पोस्टिंग के मसले पर दिल्ली सरकार और एलजी के बीच टकराव अब भी जारी है. इस मसले पर शुक्रवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एलजी अनिल बैजल से मुलाकात भी की थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दिल्‍ली में ट्रांसफर-पोस्टिंग पर खींचतान, LG से मुलाकात के बाद आज राजनाथ से मिलने के लिए CM केजरीवाल ने मांगा समय

फाइल फोटो

नई दिल्ली:

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद दिल्ली में ट्रांसफर-पोस्टिंग के मसले पर दिल्ली सरकार और एलजी के बीच टकराव अब भी जारी है. इस मसले पर शुक्रवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एलजी अनिल बैजल से मुलाकात भी की थी. अरविंद केजरीवाल ने आज केंद्रीय गृह मंत्री से मिलने का समय भी मांगा है. उन्होंने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है. केजरीवाल ने ट्वीट किया है कि गृहमंत्रालय ने उपराज्‍यपाल को सुप्रीम कोर्ट के आदेश के उस हिस्से को नज़रअंदाज़ करने को कहा है जो LG की शक्तियों को सिर्फ तीन विषयों तक सीमित रखता है. ये बहुत ही ख़तरनाक है कि केंद्र सरकार को LG को सुप्रीम कोर्ट के आदेश नहीं मानने की सलाह दे रही है. मैंने राजनाथ सिंह से सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करने की अपील करने के लिए उनसे मिलने का समय मांगा है. 

राशन की डोरस्टेप डिलीवरी पर केजरीवाल-एलजी के अलग सुर, फिर फंस सकती है योजना


इधर, केंद्रीय गृह मंत्रालय की सफाई आई है. इसमें कहा गया है कि गृह मंत्रालय ने LG को SC का आदेश नहीं मानने की सलाह नहीं दी है. ये बयान ग़लत है. गृह मंत्रालय ने सिर्फ उन्हें क़ानून का पालन करने को कहा है. ये सलाह क़ानून मंत्रालय की राय पर दी गई है. SC की बेंच ने साफ-साफ इस मसले की सुनवाई नियमित बेंच में होने की बात कही है. सर्विसेज़ का मामला अब भी कोर्ट में इस मामले में कोई फ़ैसला लेना अभी क़ानून के ख़िलाफ़ होगा. 

अरविंद केजरीवाल से मुलाकात के बाद LG अनिल बैजल ने ट्वीट कर कही यह बात... 

वहीं सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी दिल्ली की केजरीवाल सरकार और उपराज्यपाल के बीच अधिकारो की लड़ाई कुछ मामलो में अब तक उलझी हुई है. उपराज्पाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री केजरीवाल की मुलाकात के बाद साफ हुआ कि एलजी अफसरों की ट्रान्सफर पोस्टिंग फिलहाल अपने पास रखेगें. वे आम आदमी पार्टी की दलील नहीं मानेंगे.

केंद्र की मोदी सरकार को शिवसेना की सलाह, अरविंद केजरीवाल को काम करने दें... 

टिप्पणियां

दिल्ली सरकार की अहम योजना राशन की डोर स्टेप डिलीवरी पर मुख्यमंत्री और एलजी की अलग-अलग राय दिखाई दे रही है. शुक्रवार को उपराज्यपाल से मिलने के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि LG ने उन्हें कहा है कि राशन की डोर स्टेप डिलीवरी की फ़ाइल उनके पास भेजने की ज़रूरत नहीं है. केजरीवाल ने ये भी कहा कि LG ने इस योजना की फाइल बहुत दिन अपने पास लटका कर रखी थी लेकिन अब ये जल्द लागू हो जाएगी. LG ने एक बयान जारी किया, जिसमें अरविंद केजरीवाल के दावों को गलत बताया गया है. बयान में कहा गया है कि डोरस्टेप डिलीवरी में केंद्र सरकार का क़ानून बाधा बन रहा है इसलिए इसमें केंद्र सरकार से मंजूरी लोनी होगी.

VIDEO: ट्रांसफर-पोस्टिंग पर तकरार बरकरार

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement