NDTV Khabar

छात्रों के विरोध के बाद JNU प्रशासन ने कहा, पार्थ सारथी रॉक वाला क्षेत्र स्थाई तौर पर बंद नहीं

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) प्रशासन ने रविवार को कहा कि परिसर के पार्थसारथी रॉक वाले क्षेत्र को स्थायी तौर पर बंद नहीं किया गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
छात्रों के विरोध के बाद JNU प्रशासन ने कहा, पार्थ सारथी रॉक वाला क्षेत्र स्थाई तौर पर बंद नहीं

JNU प्रशासन ने कहा कि पार्थसारथी रॉक वाले क्षेत्र को स्थायी तौर पर बंद नहीं किया गया है.

नई दिल्ली :
टिप्पणियां

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) प्रशासन ने रविवार को कहा कि परिसर के पार्थसारथी रॉक वाले क्षेत्र को स्थायी तौर पर बंद नहीं किया गया है. जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय छात्र संघ (जेएनयूएसयू) और अन्य छात्र संगठनों ने विरोध प्रदर्शन करते हुए कहा है कि प्रशासन ‘‘लोकतांत्रिक स्थानों'' को बंद कर रहा है. रविवार को विश्वविद्यालय के मुख्य सुरक्षा अधिकारी ने कहा कि यह ‘‘अफवाह'' है.

अधिकारी ने कहा, ‘‘ऐसा कोई फैसला नहीं हुआ है और कुछ मरम्मत कार्यों के कारण द्वार पर अस्थायी रूप से ताला लगाया गया.'  परिपत्र में कहा गया कि कुछ असमाजिक तत्वों ने 19-20 अक्टूबर की दरम्यानी रात ताले को तोड़ दिया और लोहे के द्वार को गिरा दिया. इसमें कहा गया कि पार्थसारथी रॉक क्षेत्र सुबह साढ़े पांच बजे से शाम साढे सात बजे तक खुला रहेगा । भाषा



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement