NDTV Khabar

इंजीनियरों ने की बड़ी 'भूल', IGI एयरपोर्ट पर एयर इंडिया प्लेन की करानी पड़ी इमरजैंसी लैंडिंग

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इंजीनियरों ने की बड़ी 'भूल', IGI एयरपोर्ट पर एयर इंडिया प्लेन की करानी पड़ी इमरजैंसी लैंडिंग

AI 933 दिल्ली-कोच्चि-दुबई विमान में 234 यात्री सवार थे (प्रतीकात्मक चित्र)

खास बातें

  1. उड़ान भरने के 40 मिनट बाद विमान की हुई इमरजैंसी लैंडिंग
  2. इंजीनियरों ने लैंडिंग गियर से पिन नहीं हटाए थे
  3. दो इंजीनियरों को जांच पूरी होने तक ड्यूटी से हटाया गया
नई दिल्ली:

कोच्चि जा रहा एयर इंडिया का विमान इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से उड़ान भरने के कुछ ही समय बाद यहां आपात स्थिति में उतरने के लिए बाध्य हुआ, क्योंकि इंजीनियरों ने लैंडिंग गियर से पिन नहीं हटाए थे. एयर इंडिया के एक प्रवक्ता ने मंगलवार को कहा कि दो इंजीनियरों के पिन हटाना 'भूल' जाने के बाद जांच होने तक उन्हें ड्यूटी से हटा दिया गया है.

टिप्पणियां

एआई 933 दिल्ली-कोच्चि-दुबई विमान ने 234 यात्रियों के साथ सोमवार सुबह पांच बजकर 36 मिनट पर इंदिरा गांधी हवाई अड्डे से उड़ान भरी थी. लेकिन 40 मिनट बाद ही विमान वापस लौटने और आपात लैंडिंग करने के लिए बाध्य हुआ, क्योंकि पायलट पहियों को वापस नहीं मोड़ पाया. विमान के वापस लौटने पर यह पाया गया कि लैंडिंग गियर से पिन नहीं हटाए गए हैं. आखिरकार विमान ने चार घंटे और दो मिनट के विलंब के साथ सुबह नौ बजकर 56 मिनट पर दोबारा उड़ान भरी.


गियर पिन विमान के जमीन पर रहने के दौरान लैंडिंग गियर को दुर्घटनावश मुड़ने से रोकते हैं. लेकिन यदि उड़ान भरने से पहले उन्हें नहीं हटाया गया तो पायलट विमान के हवा में रहने के दौरान पहियों को वापस नहीं मोड़ सकता.
(इनपुट भाषा से)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement