NDTV Khabar

अलका लाम्बा का दावा: केजरीवाल ने उन्हें ट्विटर पर अनफॉलो किया, पार्टी ने WhatsApp ग्रुप से भी हटाया

आम आदमी पार्टी (आप) की विधायक अलका लाम्बा ने सोमवार को दावा किया कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उन्हें ट्विटर पर 'अनफॉलो' कर दिया है और उन्हें मौजूदा हालात में पार्टी में काम करने में दिक्कत हो रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अलका लाम्बा का दावा: केजरीवाल ने उन्हें ट्विटर पर अनफॉलो किया, पार्टी ने WhatsApp ग्रुप से भी हटाया

अलका लांबा ने कहा कि उन्हें मौजूदा हालात में पार्टी में काम करने में दिक्कत हो रही है

नई दिल्ली:

आम आदमी पार्टी (आप) की विधायक अलका लाम्बा ने सोमवार को दावा किया कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उन्हें ट्विटर पर 'अनफॉलो' कर दिया है और उन्हें मौजूदा हालात में पार्टी में काम करने में दिक्कत हो रही है. इससे पहले, पिछले साल दिसंबर में लाम्बा ने दावा किया था कि आप ने उनसे पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी से भारत रत्न वापस लेने के कथित प्रस्ताव का विरोध करने को लेकर इस्तीफा मांगा था. हालांकि, आप ने इस दावे को खारिज कर दिया था. 

राजीव गांधी से भारत रत्न वापस लेने की मांग पर AAP में घमासान, 10 प्वाइंट में जानें किसकी क्या हैं दलीलें

चांदनी चौक से विधायक अलका लाम्बा ने  बताया, "मुझे ऐसा लगता है कि पार्टी अब मेरी सेवा नहीं चाहती. लेकिन जब तक मैं विधायक हूं, अपने क्षेत्र के लोगों के लिए काम करना जारी रखूंगी." लाम्बा ने कहा कि उन्होंने आप नेतृत्व को एक संदेश भेज कर यह पूछा है कि वह उनके प्रति अपना रूख स्पष्ट करें. उन्होंने दावा किया कि उन्हें पार्टी के सभी आधिकारिक वाट्सएप्प ग्रुप से हटा दिया गया है और केजरीवाल ने रविवार को ट्विटर पर उन्हें अनफॉलो कर दिया. 


विधानसभा में AAP का ब्लंडरः राजीव गांधी से भारत रत्न की वापसी के प्रस्ताव पर घमासान, विधायक अलका लांबा से मांगा इस्तीफा

बीते साल खबर आई थी कि आम आदमी पार्टी ने विधायक अलका लांबा से उनकी विधायकी और पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा मांगा था. सूत्रों ने बताया था कि अलका लांबा इस बात पर अड़ी हुई थी कि 1984 में क्योंकि तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने सिख विरोधी हिंसा को उचित ठहराते हुए कहा था कि जब कोई बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती हिलती है. इसलिए केंद्र सरकार से राजीव गांधी को दिए गए सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न को वापस लेने के लिए प्रस्ताव पास किया जाए. 

चांदनी चौक में 80 दुकानें जलकर खाक, नारेबाजी के बीच क्रेन पर घंटों चढ़ी रहीं अलका लांबा, पढ़ें क्या है मामला

सूत्रों के मुताबिक, इस संबंध में दिल्ली विधानसभा में शुक्रवार को जो कुछ हुआ वह आम आदमी पार्टी का आधिकारिक स्टैंड नहीं था और विधायकों की गलती से हुई चूक थी जबकि अलका लांबा इस पर अड़ी हुई थी लिहाजा पार्टी ने उनसे इस्तीफा मांग लिया था.

VIDEO: राजीव गांधी से भारत रत्न वापस लेने की मांग वाले प्रस्ताव पर घमासान

टिप्पणियां

(इनपुट भाषा से)

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement