NDTV Khabar

एंटी इंडिया हैकिंग कैंपेन : दुबई और पाक हैंडलर्स की हुई पहचान

शाहिद मल्ला और आदिल हुसैन तेली, दावा है कि इन लोगों ने 500 से ज्यादा और सरकारी वेबसाइट्स हैक की हैं लेकिन फिलहाल पुलिस ने ऐसी सरकारी वेबसाइट्स के नामों को गोपनीय रखा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
एंटी इंडिया हैकिंग कैंपेन : दुबई और पाक हैंडलर्स की हुई पहचान

पिछले दिनों पुलिस ने पंजाब से पाकिस्‍तान समर्थक दो कश्‍मीरी हैकरों को गिरफ्तार किया था

नई दिल्‍ली: एंटी इंडिया हैकिंग कैंपेन चला रहे जिन 2 आरोपियों को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है, उनके दुबई और पाकिस्तानी हैंडलरों की पहचान हो गयी है. वहीं जिन सरकारी वेबसाइटों को हैक किया गया है, उनके नाम फिलहाल गोपनीय रखे जा रहे हैं. शाहिद मल्ला और आदिल हुसैन तेली, दावा है कि इन लोगों ने 500 से ज्यादा और सरकारी वेबसाइट्स हैक की हैं लेकिन फिलहाल पुलिस ने ऐसी सरकारी वेबसाइट्स के नामों को गोपनीय रखा है. सूत्रों की मानें तो पुलिस के पास उन सभी 500 से ज्यादा सरकारी और प्राइवेट वेबसाइट्स की लिस्ट है लेकिन कोई भी सरकारी दफ्तर ये मानने को तैयार नहीं कि उनकी वेबसाइट हैक हुई है. उनकी तरफ से कोई शिकायत भी नहीं दी गयी. कई बड़े सरकारी प्रतिष्ठानों की वेबसाइट हैक होने पर ये कहा गया कि सर्वर में कुछ प्रॉब्लम है. ये लोग डिजिटल डिनायल सर्विस अटैक यानी किसी वेबसाइट पर ट्रैफिक बहुत ज्यादा बढ़ाकर उसे क्रैश कर देते थे.

पुलिस ने उन पाकिस्तानी हैकरों की पहचान कर ली है जो इन दोनों के संपर्क में थे. उनकी पहचान हंटर बाजवा, आमिर रज़ा और फैसल अफ़ज़ल के रूप में हुई है. ये हैकिंग ग्रुप ब्लैक लीट्स, पाकिस्तान साइबर आर्मी से जुड़े हैं. इनका आईपी एड्रेस दुबई का है. ये लोग कश्मीर में हैकिंग एक्सपर्ट डेसिन डेलफ़ा डेलवार के संपर्क में थे. ये भी हैकिंग की दुनिया का एक बड़ा नाम है. ये खुद को संगबाज यानी पत्थरबाजों का हितैषी बताता है.

टिप्पणियां
VIDEO: दो पाकिस्‍तान समर्थक हैकर दिल्‍ली पुलिस की गिरफ्त में

ये शख्स कश्मीर के पुलवामा का रहने वाला है. यही वी शख्स है जो गिरफ्तार शाहिद मल्ला के संपर्क में था. जांच में ये भी पता चला है कि कश्मीरी युवा केवल कश्मीर में ही नहीं बल्कि कश्मीर से बाहर भी एंटी इंडिया और आतंक के लिए प्रेरित हो रहे हैं. आदिल हुसैन जालंधर के जिस कॉलेज से बीसीए कर रहा है उसी कॉलेज में पढ़ने वाला आबिद नाज़िर चोपान इसी साल 18 अप्रैल को आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन में शामिल हो गया.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement