अरविंद केजरीवाल के गृह कर खत्म करने के वादे की भाजपा ने की आलोचना

अरविंद केजरीवाल के गृह कर खत्म करने के वादे की भाजपा ने की आलोचना

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि अगर दिल्ली नगर निगम चुनाव में आम आदमी पार्टी (आप) की जीत होती है, तो गृह कर खत्म कर दिया जाएगा. जबकि, दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने इसकी आलोचना की है. केजरीवाल ने संवाददाताओं से कहा, "अगर दिल्ली नगर निगम चुनाव में 'आप' सत्ता में आती है तो रिहायशी गृह कर खत्म कर दिए जाएंगे. बकाया गृह कर भी माफ कर दिए जाएंगे." उन्होंने कहा कि औद्योगिक और व्यावसायिक गृह कर पूर्ववत रहेंगे.

दिल्ली नगर निगम के 272 वार्डों के लिए 23 अप्रैल को वोट डाले जाएंगे, जिसके नतीजे 26 अप्रैल को आएंगे. अरविंद केजरीवाल के मुताबिक, आम आदमी पार्टी ने गृह कर से संबंधित सभी गणना पूरी कर ली है. उन्होंने कहा कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आती है तो लोगों के धन के साथ भ्रष्टाचार होने से बचाया जाएगा, और उसका इस्तेमाल गृह कर समाप्त करने के बाद आने वाले आर्थिक बोझ से निपटने में किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी ने बिजली की दर को कम करने सहित अपने सभी चुनावी वादे पूरे किए हैं. आप नेता ने कहा, "हमने मुफ्त पेय जल देने और बिजली के दाम आधे करने का वादा किया था. हमने जो कहा था वो किया. नगर निगम चुनाव में जो कह रहे हैं, उसे करेंगे." केजरीवाल ने कहा कि अगर 'आप' नगर निगम चुनाव जीतती है तो एक वर्ष के भीतर पार्टी एमसीडी को पूरी तरह बदल देगी. यह एक लाभदायी संस्थान बन जाएगा, जो वर्तमान में धन की कमी से गुजर रहा है.

उन्होंने कहा, "अगर आप नगर निगम चुनाव में सत्ता में आई तो एमसीडी कर्मचारियों के वेतन समय पर जारी किए जाएंगे." उन्होंने आरोप लगाया कि निगमों में भ्रष्टाचार व्याप्त है और पार्षद इसके जरिए धन कमाते हैं. उन्होंने कहा कि निगमों को जो धन करों के जरिए प्राप्त होता है, उसे भ्रष्ट लोग चुरा ले जाते हैं. केजरीवाल ने कहा, "पार्षद एमसीडी में पैसे बनाने के लिए कागज पर एक सड़का निर्माण तीन-चार बार करा देते हैं. वे सड़कों के लिए निर्धारित धन का दुरुपयोग करते हैं. जिसकी जरूरत नहीं है, वह काम भी एमसीडी में हो रहा है, जिसके कारण भ्रष्टाचार बढ़ रहा है."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उन्होंने कहा कि आप जल्द ही नगर निकाय चुनाव के लिए एक विस्तृत घोषणा पत्र के साथ आएगी. वहीं, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने इस घोषणा को शर्मनाक करार दिया है. इस घोषणा की आलोचना करते हुए तिवारी ने कहा, "यह कहना शर्मनाक है कि अगर एक बार दिल्ली के नगर निगम चुनाव में उनकी पार्टी जीतती है तो गृह कर खत्म कर दिया जाएगा. पिछले दो वर्षों के दौरान केजरीवाल सरकार ने कई बार तीनों नगर निगमों को सख्ती के साथ गृह कर वसूलने, खासकर अनधिकृत कॉलोनियों में रहने वालों से गृह कर वसूलने के लिए लिखा है."

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)