NDTV Khabar

पाकिस्तान और ISI जो काम 70 साल में नहीं कर पाए, BJP ने तीन साल में कर डाला : अरविंद केजरीवाल

केजरीवाल ने ‘आप’ के पांचवें स्थापना दिवस समारोह में देशभर से जुटे कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुये कहा, ‘‘देश बेहद नाजुक दौर से गुजर रहा है, जबकि हिंदू मुसलमान को आपस में लड़ाकर देश को बांटने की कोशिश की जा रही है. हिंदू मुसलमान के नाम पर भारत को बांटना ही पाकिस्तान का सबसे बड़ा मकसद और सपना है.’’

2.4K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
पाकिस्तान और ISI जो काम 70 साल में नहीं कर पाए, BJP ने तीन साल में कर डाला : अरविंद केजरीवाल

आप के पांचवें स्‍थापना दिवस समारोह में अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी पर लगाए कई आरोप

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने केन्द्र में सत्तारूढ़ बीजेपी पर आरोप लगाया कि वह सांप्रदायिकता की राजनीति कर पाकिस्तान के हित साध रही है. केजरीवाल ने कहा कि देश को तोड़ने का जो काम आईएसआई 70 साल में नहीं कर पाई, वह काम बीजेपी ने तीन साल में कर दिया.

कुमार विश्वास बोले, 'आप' को आगे बढ़ने के लिए ढूंढना होगा सही रास्ता

केजरीवाल ने ‘आप’ के पांचवें स्थापना दिवस समारोह में देशभर से जुटे कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुये कहा, ‘‘देश बेहद नाजुक दौर से गुजर रहा है, जबकि हिंदू मुसलमान को आपस में लड़ाकर देश को बांटने की कोशिश की जा रही है. हिंदू मुसलमान के नाम पर भारत को बांटना ही पाकिस्तान का सबसे बड़ा मकसद और सपना है.’’ उन्होंने बीजेपी पर परोक्ष हमला बोलते हुये कहा, ‘‘जो लोग देश को हिंदू मुसलमान के नाम पर बांट रहे हैं, वे पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के एजेंट हैं, वे राष्ट्रभक्त का चोला पहने देशद्रोही हैं.’’  

इतना ही नहीं, बीजेपी पर आरोपों के बीच केजरीवाल ने आप में मचे अंदरूनी घमासान पर भी पार्टी कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि जब पार्टी और देश के हितों में विरोधाभास हो तो पार्टी के हितों को भूल जाना और देश के हित में काम करना.

भ्रष्टाचार के मामले पर भी केजरीवाल ने बीजेपी को आड़े हाथों लिया. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की तरह ही केन्द्र की बीजेपी सरकार ने भी तीन साल में घोटालों की झड़ी लगा दी है. उन्होंने गुजरात विधानसभा चुनाव का हवाला देते हुए कहा कि अब समय आ गया है कि भाजपा की सरकारों को कांग्रेस की तरह ही उखाड़ फेंका जाए. केजरीवाल ने रामलीला मैदान से ही गुजरात के मतदाताओं से भाजपा को हराने वाले उम्मीदवार को वोट देने की अपील की चाहे वह आप का उम्मीदवार हो या किसी अन्य दल का.

AAP के राष्ट्रीय सम्मेलन से पहले कुमार विश्वास ने दिया अपने 'मन का संदेश' - 7 खास बातें

इससे पहले पार्टी के असंतुष्ट नेता कुमार विश्वास ने भी आप के स्थापना दिवस पर रामलीला मैदान में आयोजित पार्टी के राष्ट्रीय सम्मेलन में मंच से अपने मन की भड़ास जमकर निकाली. पार्टी नेतृत्व पर कार्यकर्ताओं की बात न सुनने और अहंकारी रवैया अपनाने का आरोप लगाते हुये उन्होंने कहा कि कुछ लोग दूसरे दलों से आकर आप को उसके मकसद से दूर कर रहे हैं. विश्वास ने किसी का नाम लिये बिना कहा ‘‘ मुझे पांच छह महीनों में पहली बार बोलने का मौका मिला है. 

टिप्पणियां
VIDEO: आम आदमी पार्टी के पांच साल पूरे


पिछले पांच महीनों की संवादहीनता के कारण जितनी बेचैनी मुझे हुयी है वह मैं समझ सकता हूं और जिन्हें पांच साल से बोलने नहीं दिया गया उन्हें कितनी बेचैनी होगी.’’ उन्होंने पार्टी छोड़कर गये आप नेताओं को भी वापस लाने की उम्मीद जताते हुये कहा कि पार्टी के कुछ ईमानदार संस्थापक सदस्य गलतफहमियों, संवादहीनता और अहंकार की वजह से छोड़ कर गये थे. उन्हें फिर से राजनीति के बदलाव के इस आंदोलन से जोड़ना होगा.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement