NDTV Khabar

आम आदमी पार्टी ने घोषित किये नई दिल्ली और पश्चिमी दिल्ली लोकसभा सीटों के प्रभारी

गोपाल राय ने यह घोषणा करते हुए कहा कि नई दिल्ली सीट से चुनाव लड़ने के लिए यशवंत सिन्हा से बात की गयी लेकिन उन्होंने देशभर में मोदी सरकार के खिलाफ प्रचार करने की इच्छा जतायी है.

293 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
आम आदमी पार्टी ने घोषित किये नई दिल्ली और पश्चिमी दिल्ली लोकसभा सीटों के प्रभारी

आप के दिल्‍ली संयोजक गोपाल राय (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली: आम आदमी पार्टी (आप) ने रविवार को घोषणा की कि बृजेश गोयल और राजपाल सोलंकी 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के नई दिल्ली और पश्चिमी दिल्ली लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों के प्रभारी होंगे. इस तरह पार्टी ने दिल्ली की सातों लोकसभा सीटों पर प्रभारी घोषित कर दिए हैं. पार्टी कार्यालय में पत्रकारों को संबोधित करते हुए दिल्ली के संयोजक गोपाल राय ने दिल्ली की बची हुई 2 सीटों पर पार्टी के लोकसभा प्रभारियों की घोषणा की. उन्होंने बताया ब्रजेश गोयल नई दिल्ली से पार्टी के लोकसभा प्रभारी होंगे. समाज सेवी राजपाल सोलंकी पश्चिमी दिल्ली से आम आदमी पार्टी के लोकसभा प्रभारी होंगे. ब्रजेश गोयल पार्टी के ट्रेड विंग के संयोजक हैं, जिन्होंने सीलिंग को लेकर पार्टी की तरफ से व्यापारियों के साथ आवाज बुलंद की है. राजपाल सोलंकी पश्चिमी दिल्ली के समाज सेवी हैं. सोलंकी वेंकेटेश्वर हॉस्पिटल के चेयरमैन और वेंकेटेश्वर इंटरनेशनल स्कूल के भी चेयरमैन हैं.

गोपाल राय ने यह घोषणा करते हुए कहा कि नई दिल्ली सीट से चुनाव लड़ने के लिए यशवंत सिन्हा से बात की गयी लेकिन उन्होंने देशभर में मोदी सरकार के खिलाफ प्रचार करने की इच्छा जतायी है. उन्होंने कहा कि शत्रुघ्न सिन्हा को पार्टी उम्मीदवार बनाये जाने के बारे में बात नहीं हुई है. पार्टी दिल्ली की सात लोकसभा सीटों में से पांच सीटों पर अपने प्रभारियों की पहले ही घोषणा कर चुकी है.

टिप्पणियां
राय ने कहा कि सभी सातों प्रभारियों की उम्मीदवारी को बाद में औपचारिक रूप दिया जायेगा. इस घोषणा से इस तरह की अटकलों पर विराम लग गया है कि पूर्व केन्द्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा और भाजपा के बागी नेता शत्रुघ्न सिन्हा इन दो सीटों पर आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार होंगे.

इस बीच पार्टी सूत्रों ने बताया कि लोकसभा क्षेत्रों के प्रभारी ही अंतत: 2019 के चुनाव में पार्टी के उम्मीदवार होंगे. हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि 'आखिरी मिनट' में इसमें परिवर्तन हो सकता हैं क्योंकि कुछ प्रभारी बिना किसी राजनीतिक अनुभव के 'बहुत नए चेहरे' हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement